Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

विधवा माँ को जमकर चोदा


हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और यह कहानी मेरी और मेरी माँ के बीच की है. अब सबसे पहले में आपको अपनी माँ के बारे में बता दूँ. मेरी माँ का नाम सुधा है और उनकी उम्र लगभग 38 साल होगी, उनका फिगर एकदम मस्त था. मेरे पिताजी एक सरकारी ऑफिस में बाबू थे और वो बहुत दारू पिया करते थे. हम तीन लोगों का परिवार था, जिसमें मेरी माँ बाप और में रहते थे. हम लोग मुंबई नगरी में एक छोटे से फ्लेट में रहते थे. हमारे घर में एक ड्राइंगरूम और एक बेडरूम था.

हमारा बेडरूम बहुत ही छोटा था, जिसमें एक पलंग ही आ सकता था. जैसा कि मैंने आपको बताया कि मेरे पिताजी बहुत दारू पिया करते थे और दारू पीकर मेरी माँ को मारा करते थे. यह बात उस समय की जब में 10वीं क्लास में पढ़ा करता था. एक दिन रात को मेरे पिताजी दारू पीकर आए और दरवाजे को ज़ोर-ज़ोर से मारने लगे तो में और मेरी माँ डर गये और मेरी माँ ने जैसे ही दरवाजा खोला, तो मेरे पिताजी मेरी माँ को मारने लगे और कहने लगे कि दरवाजा खोलने में इतनी देर क्यों लगी? अब मेरी माँ कुछ बोलती उससे पहले मेरे पिताजी ने गालियाँ देना शुरू कर दिया और कहने लगे कि बहन की लोड़ी, कुत्तिया, हरामजादी.

अब मेरी माँ संभल पाती उससे पहले मेरे पिताजी ने मेरी माँ पर हमला बोल दिया और उसका ब्लाउज फाड़ दिया और मेरी माँ के बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से दबाने लगे. अब मेरी माँ एक मर्द आदमी के सामने विरोध नहीं कर पा रही थी और इतने में पिताजी ने मेरी ब्रा निकालकर फेंक दी और माँ के बूब्स को अपने होंठो में लेकर चूसने लगे.

कुछ देर के बाद मेरी माँ का चेहरा लाल हो गया और वो सिसकारियाँ भरने लगी. अब में रूम में से यह सब कुछ देख रहा था. कुछ ही देर के बाद मेरे पिताजी मेरी माँ के बूब्स के पीते पीते वहीं पर ही सो गये और मेरी माँ अर्धनग्न होकर रातभर वहीं बैठकर रोती रही और वो भी वहीं पर सो गयी.

सुबह मेरी माँ जल्दी उठी और अपने आपको संभालकर घर के काम में लग गयी. अब अगले दिन मेरी माँ बहुत उदास थी, लेकिन वो अपने आपको संभाल रही थी. अब जिंदगी बस ऐसे ही चली जा रही थी.

उसी शाम को मेरी माँ टेलरिंग कर रही थी कि दो पड़ोसियों ने आकर बताया कि मेरे पिताजी का एक्सीडेंट हो गया है और वो मर गये है. तो मेरी माँ यह सब सुनकर बेहोश हो गयी और कुछ देर के बाद उन्हें होश आया तो वो फूट-फूटकर रोने लगी. सारे रिश्तेदार आए और सारे क्रिया कर्म पूरे किए. कुछ दिनों तक तो माँ उदास रही, लेकिन वो जल्द ही संभल गयी और जिंदगी पहले की तरह ही चलने लगी.

अब मेरी माँ को ज्यादा अफसोस नहीं था, मेरी माँ टेलरिंग करके घर चला लेती थी और पिताजी के ऑफीस से 7-8 लाख मिले थे, उनको बैंक में जमा करवा दिया था. अब मेरे पिताजी के मरने के बाद मैंने देखा कि मेरी माँ मेरा कुछ ज्यादा ही ख्याल रखती है और मुझे कहीं पर बाहर नहीं जाने देती है और सारा दिन अपने साथ ही रखती है. अब में और मेरी माँ एक साथ पलंग पर ही सोया करते थे. में अपनी माँ के ऊपर अपना हाथ रखकर सोया करता था तो मेरा हाथ रखते ही मेरा लंड खड़ा हो जाया करता था, लेकिन मुझे सेक्स का कुछ ज्ञान नहीं था.

अब मेरा लंड मेरी माँ की गांड से टकरा जाता था, तो मेरी माँ भी अपनी गांड मेरे लंड से रगड़ा करती थी और सो जाया करती थी. अब जिंदगी बस ऐसे ही कटे जा रही थी.

एक दिन में स्कूल गया था, तो पीछे से मेरी माँ की तबीयत खराब हो गयी तो माँ डॉक्टर को दिखाकर आई तो डॉक्टर ने कुछ दिनों तक काम ना करने को कहा. मेरी माँ ने फोन करके मेरी मौसी की लड़की को बुला लिया. अब वो मेरे स्कूल से घर पहुँचने से पहले ही आ चुकी थी, उसका नाम रीना था और वो बहुत ही तेज लड़की थी और वो कॉलेज में पढ़ती थी, में और रीना अच्छे दोस्त की तरह रहते थे.

में रीना से मिला और उसके कॉलेज के बारे पूछा, तो उसने कहा कि बाद में बताउंगी, में कहीं भागे थोड़ी जा रही हूँ, अब मेरी माँ कमरे में बेड रेस्ट पर थी. रीना ने रात का खाना बनाया और हम सब खाना खाकर सोने की तैयारी करने लगे. मेरी माँ ने कहा कि में और रीना एक साथ ड्रॉईग रूम में सो जाए, में और रीना एक साथ सो गये.

मैंने अपना एक हाथ रीना के ऊपर रखा तो रीना बोली कि यह क्या कर रहे हो? तो मैंने कहा कि में ऐसे ही सोता हूँ, तो रीना ने जवाब दिया कि बेटा तुम अब बड़े हो गये हो और तुम्हारा औजार मेरे अंदर घुसने को बेताब हो रहा है. मैंने कहा कि मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा है. रीना बोली कि अभी समझा देती हूँ और वो पलटकर मेरे होंठो पर किस करने लगी और मेरे लंड को पकड़ लिया. अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, अब में रीना को चूमने लगा था.

रीना ने मेरे और अपने कपड़े उतारकर 69 की पोज़िशन में होने को कहा, तो मैंने उससे पूछा कि इससे क्या होगा? तो उसने कहा कि जैसा में कहती हूँ वैसा करो और बातें मत करो, नहीं तो तुम्हारी माँ जाग जाएगी.

कुछ देर में उसने अपना पानी मेरे मुँह और मैंने अपना स्पर्म उसके मुँह में ही छोड़ दिया और वो से मेरे लंड को चूसने लगी तो मेरा लंड से गर्म रोड की तरह खड़ा हो गया.

वो मेरे लंड को देखकर बोली कि वाउ क्या लम्बा लंड है तेरा? और रीना अपनी दोनों टाँगे फैलाकर बैठ गयी और मुझे अपना लंड उसकी चूत में अंदर डालने को बोली. मैंने अपना लंड जैसे ही उसकी चूत पर रखकर एक धक्का मारा तो मेरा लंड स्लीप होकर उसकी चूत से साईड से निकल गया, उसकी चूत बहुत ही टाईट थी.

उसने कहा कि रुको और बाथरूम से जाकर तेल की बोतल ले आई और थोड़ा तेल अपनी चूत पर लगाया और मेरे लंड की भी मालिश की. उसके बाद मैंने से एक धक्का मारा, तो वो चिल्ला उठी और मेरी माँ ने आवाज़ दी क्या हुआ रीना? तो रीना ने कहा कि कुछ नहीं छिपकली थी मौसी. अब इतने में मेरा लंड आधा उसकी चूत में जा चुका था.

अब रीना दर्द से कांप उठी थी और अपने होंठ मेरे होंठो पर रखकर चूस रही थी. इतने में मैंने 3-4 धक्के लगाए और मेरा लंड उसकी चूत में ग़ुम हो गया था. अब रीना भी अपनी गांड उठा-उठाकर आनंद ले रही थी. कुछ ही देर में रीना झड़ गयी और ढीली पड़ गयी और कुछ ही देर में भी उसकी चूत में ही झड़ गया. कुछ देर तक हम दोनों ऐसे ही पड़े रहे और बाद में रीना ने अपने कपड़े ठीक किए और मुझे भी अपने कपड़े ठीक करने को कहा और हम दोनों रात को चिपककर सो गये.

सुबह उठकर में अपने कॉलेज चला गया और जब शाम को आया तो रीना मेरा इंतज़ार कर रही थी और आते ही पूछा कि रात को जन्नत की सैर कैसी लगी? तो मैंने कहा कि अब तो हर रात ही जन्नत की सैर में ही कटेगी कहा, तो वो मेरे चाय बनाने चली गयी. इस प्रकार से एक हफ्ते तक इसी तरह से हमारी चुदाई चालू रही. एक हफ्ते के बाद मेरी मौसी भी मेरी माँ का हाल पूछने आई और रीना को अपने साथ घर ले गयी. अब रीना बहुत ही उदास हो गयी थी और अब मेरी माँ भी ठीक हो चुकी थी.

शाम को खाना खाने के बाद मैंने पूछा कि माँ आपको कौन सी बीमारी हो गयी थी? तो उनका चेहरा लाल हो गया और वो पहले तो कुछ नहीं बोली और बाद में उन्होंने हिम्मत करके सारी बात बता दी. उन्होंने बताया कि उनका पीरियड ठीक से नहीं आ रहा था और खून भी ज्यादा बह गया था. मैंने पूछा कि यह क्या होता है? तो वो पहले तो हँसने लगी और बाद में सारी बात विस्तार से समझा दी. अब उस दिन से मेरी माँ का मुझसे बात करने नजरिया ही बदल गया था.

शाम को माँ ने एक ग्राहक का डीपकट ब्लाउज पहनकर मुझसे पूछा कि राज यह ब्लाउज कैसा लग रहा है? तो में चकित ही रह गया. अब मेरी माँ के बूब्स ब्लाउज से बाहर आ रहे थे. मैंने कहा कि माँ तुम बहुत ही सुंदर लग रही हूँ, तुम एकदम हिरोइन लग रही हूँ. मेरी माँ बोली कि हट बेशर्म और कहा कि में कहाँ? हिरोइन कहाँ? उसके बाद मेरी माँ ने मेरे सामने ही अपना ब्लाउज चेंज किया, तो में सब कुछ देखकर अपने आपको काबू में नहीं रख पाया और अंदर ही झड़ गया.

अब मेरी माँ का मुझसे बातें करने का नजरिया ही बदल गया था और अब में बहुत खुश था. अब में और मेरी माँ खुलकर बातें करते थे, मेरी माँ मुझसे अपने व्हेसपर मंगवाया करती थी. एक रात को जब में मेरी माँ के साथ सो रहा था तो में अपना लंड माँ की गांड से रगड़ रहा था, तो माँ कुछ नहीं बोली, तो में अपना एक हाथ उनके बूब्स पर फैरने लगा. अब मेरी माँ की तरफ से कोई जवाब नहीं था, अब वो सोने का नाटक कर रही थी.

nमैंने उनका ब्लाउज खोल दिया और उनके बूब्स को ब्रा से बाहर निकालकर अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और उनके दूसरे बूब्स को ज़ोर-जोर से दबाने लगा लगा और मैंने एक बूब्स पर ज़ोर से काट खाया, तो मेरी माँ जाग गयी और मुझ पर बनावटी गुस्सा करने लगी, लेकिन मैंने अपनी माँ की एक भी नहीं सुनी और उनके बूब्स को अपने मुँह में लेकर उनका दूध पीने लगा.

अब मेरी माँ के मुँह से सिसकारियों की आवाज़ आ रही थी. कुछ ही देर में वो अपना विरोध छोड़कर मेरा साथ देने लग गयी और मेरे होंठो पर किस करने लग गयी. मैंने कहा कि आई लव यू माँ, तो मेरी माँ ने जवाब दिया आई लव यू टू माई सन और हम दोनों ने खूब चुदाई की और खूब इन्जॉय किया.

Updated: March 23, 2017 — 8:07 am
Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


chalu biwimarathi suhagrat sexbhabhi ki sareesex hindi fullbhabhi aur devar sexchodai ki khani hindi memama mami chudaihindi sex doctorchut land kahani hindihindi real chudai storykamwali ke sathmama bhanjischool teacher ki chudai kichudai love storysexy kahani bhabhi ki chudaimami ki chudai ki storyshavita bhabhi comhind xxx storysexy lund aur chutlund and chut sex18 auntybhabhi ki chudai story hindisex story antarvasnamarvadi sexxbhabhi ki phudi mariindian chudai storydidi ko choda storyxxx sex chudaidesi maa chudai storyhindi sexy bhabijija sale ki chudaisex kadhagf ki chut marichudai ke bahanedesi aunty ki gand maribhabhi ji sexyaunty ki chudai ki hindi storyteacher se chudai kahanidesi sexy chudai storyrandi storysexy choot lundbhabhi ki gand chudai videosex bahbichut mai lund photobur chataibahu chudai ki kahanichachi chudai hindischool ki principal ko chodachudai kahani hindi font mebhai ne maa ko chodawww devar bhabhi ki chudaichudai ki bhukhjaan sexbaap beti ki sexyseel todnabiwi ke sath chudaidownload hindi chudaimaa ki chudai kahani hindilund chut mechote bhai se chudaidesi gaand in sareesexy story aapwww aunty ki chudai ki kahanichudai ke kahanepdf chudai storymarathi sex storiesteacher ki mast chudaimeri vasnaladki ki chaddiaunty stories sexbhabhi or devar chudaigand ki chudai ki kahanichudai ka khelincest sex kahanichodu auntykhet me sex storychudai ki sachi kahani hindiboss sex storiesmaa bete ki hot chudaihindi sexy bookpadosan chachi ki chudaigujrati fuck storybeta ne maa ko choda