Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

उसके खड़े निप्पल-1


hindi sex stories हैल्लो दोस्तों मेरा नाम दिनेश है, मेरा साफ रंग गठीला बदन जवान शरीर किसी भी लड़की को अंपनी तरफ आकर्षित करने के लिए बहुत अच्छा है, इसलिए मुझे बहुत सारी लड़कियाँ अपना बॉयफ्रेंड बनाने की इच्छा जरुर अपने मन में रखती थी। दोस्तों मुझे बचपन से ही सेक्स करना बहुत अच्छा लगता था और मैंने अपनी बहन की चुदाई करने के बाद बहुत बार कई लड़कियों के साथ चुदाई के मस्त मज़े लिए जिसके बाद मेरा मन ख़ुशी से झूम उठता है। अब में पिछले कुछ सालों से कामुकता डॉट कॉम पर सेक्सी कहानियों को पढ़कर उनके मज़े लेने लगा हूँ, जिसकी वजह से मेरा मन खुश रहता है, क्योंकि यह सभी कहानी मुझे बड़ा उत्साहित किया करती है इनको पढ़कर मेरे मन जोश से भर जाता है। दोस्तों आज में आप सभी की सेवा में अपनी एक सच्ची घटना को लेकर आया हूँ जिसमें मैंने मेरे साथ रहने वाली मेरी चचेरी बहन के कहने पर ही उसके साथ मस्त मज़े लिए और सच कहता हूँ कि में उसके साथ यह सब करने के विचार बहुत दिनों से अपने मन में लिए था। दोस्तों मुझे मेरी बहन का गोरा बदन उसके उठे हुए बड़े आकार के बूब्स और वो गदराया हुआ कामुक जिस्म पागल किए था, लेकिन वो मेरी बहन थी इसलिए बस में उसके बारे में सोचकर ही रह जाता था मेरी उसके साथ कुछ भी करने की हिम्मत नहीं होती थी।

दोस्तों वैसे हम दोनों के साथ में रहने की वजह से उसके में बहुत खुलकर रहने लगा था और बहुत बार में काम करते समय उसके बूब्स को देख चुका था। फिर एक दिन भगवान ने शायद मेरे मन की बात को उनकर, उस घटना की वजह से हम दोनों बहुत पास आ गए और चुदाई के हमने मज़े लिए और अब ज्यादा बोर ना करते हुए में सीधे कहानी को सुनाना शुरू करता हूँ। दोस्तों यह घटना जो मेरे साथ आगरा में हुई मेरा नाम राज है, में 26 साल का हूँ और मेरी चचेरी बहन का नाम मीता है, वो 22 साल की है जवान सुंदर और उसके बूब्स के बारे में तो आप पूछो मत, क्योंकि वो बहुत ही सुंदर है एकदम गोरी उसके बाल बड़े लंबे काले है, उसकी लम्बाई करीब 5.5 है और उसके बूब्स का आकार 36-24-38 है और उसके बूब्स बड़े मस्त एकदम गोलमटोल है। दोस्तों यह घटना मेरे साथ तब घटी जब हम दोनों अपने घर से बाहर आगरा में एक ही कमरा में रहते थे, क्योंकि हमारे घर के आसपास कोई भी ऐसा कॉलेज नहीं था इसलिए हम दोनों को हमारी पढ़ाई की वजह से वहां पर रहना पड़ा। दोस्तों मैंने हम दोनों के कॉलेज से कुछ दूरी पर ही एक कमरा किराए से लिया हुआ था और उसमे हम दोनों ही रहते थे और मैंने अपने उस कमरे में पढ़ने के लिए कुछ गंदी सेक्सी कहानियों की किताबें भी रखी हुई थी।

फिर जब कभी भी मुझे मौका मिलता में अकेले में या फिर पढ़ाई करने के बहाने से उन सेक्स कहानियों के मज़े लेता था और उन कहानियों को पढ़कर मुझे बहुत अच्छा लगता था, लेकिन मेरे अंदर की आग उस काम को करके बढ़ती ही जा रही थी। एक दिन मेरी बहन मीता के हाथों में कमरे की सफाई करते समय वो किताब गलती से लग गयी, उस समय में वहां पर नहीं था। फिर उसने उन कहानियों को बहुत ध्यान से पढ़ा और इसलिए वो बहुत गरम हो चुकी थी, उसको मेरी आदतो और मेरी गंदी सोच के बारे में पता चला जिसकी वजह से उसका डर मुझसे यह बात खुलकर कहने की हिम्मत आ गई। दोस्तों अब में अपने लंड और मेरी बहन अपनी चूत की उत्तेजना की वजह से अपने आपे में नहीं रह सके। फिर वो जब में शाम को अपने कमरे पर पहुंचा तो मुझे उसके मेरे प्रति व्यहवार में बहुत बदलाव नजर आया वो मुझे देखकर मुस्कुरा रही थी और उसके खिले चेहरे से मुझे उसकी खुशी का अंदाजा पूरी तरह से खुलकर मुझसे कहने लगी कि में तुम्हारी पत्नी बन जाती हूँ और तुम मुझे अपनी पत्नी समझकर मेरे साथ जमकर सेक्स करो। दोस्तों वो उस समय जींस शर्ट में थी और अब वो मुझसे कहने लगी कि चलो अब तुम शुरू हो जाओ और आज मुझे बहुत प्यार करो मेरे बदन की आग को बुझा दो।

दोस्तों इतना कहकर उसने मुझे चूमना प्यार करना शुरू कर दिया, मेरे होंठो को वो बुरी तरह से चूमने लगी थी, जिसकी वजह से कुछ देर बाद में भी जोश में आ गया। अब में भी उसको चूमने लगा था और मैंने उसको अपनी बाहों में दबाकर प्यार करना शुरू किया और वो भी मेरा साथ देने लगी थी। फिर उसको मैंने खींचकर पलंग पर लेटा दिया और में उसके ऊपर आ गया और अब मैंने उसको चूमना शुरू कर दिया। फिर करीब दस मिनट तक में उसको चूमता ही रहा। फिर मैंने उसकी शर्ट को खोल दिया और उसके बाद मैंने उसकी ब्रा को भी खोल दिया और जैसे ही मैंने उसकी ब्रा को खोला, उसी समय उसके गोरे बड़े आकार के बूब्स उछलकर तुरंत बाहर आ गये। अब में चकित होकर बूब्स को देखकर एकदम पागलों की तरह उन दोनों बूब्स को दबाने लगा और मन ही मन में सोचने लगा कि कितने दिनों के बाद मुझे अपनी बहन के पूरे बूब्स वो भी बिना कपड़ो के नजर आए और मुझे बूब्स को पहली बार छूने के अलावा दबाने का भी मौका मिला था। फिर मैंने भूखे की तरह लपकते हुए उसकी निप्पल को अपने मुहं में भर लिया और अब में बूब्स को चूसने लगा और बूब्स को चूसते हुए ही उसकी जींस को उतारकर मैंने उसको अपने सामने पेंटी में कर दिया।

अब मैंने अपने एक हाथ से छूकर देखा कि उसकी चूत अब तक बहुत गरम हो चुकी थी और जोश की वजह से उसकी पेंटी चूत के पास वाले हिस्से से गीली भी हो चुकी थी। फिर मैंने कुछ देर चूत को सहलाने के बाद उसकी पेंटी को उतारकर उसके दोनों पैरों को फैलाकर में अब चूत को चाटने लगा था और वो सिसकियाँ ले रही थी आह्ह्ह्ह आस्स्स्स्शहस। अब वो अपनी चूत को मेरी जीभ से चूसने चाटने के मज़े लेने के साथ ही जोश में आकर मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर उसको सहलाने के साथ ही खींच भी रही थी और वो लंड को कसकर दबा भी रही थी। फिर मैंने कुछ देर बाद मीता ने जोश में आकर अपनी कमर को ऊपर उठा लिया और वो मेरे तने हुए लंड को अपनी जांघो के बीच लेकर रगड़ने लगी थी और वो मेरी तरफ करवट लेकर लेट गयी, मेरे लंड को ठीक तरह से पकड़कर मज़े ले रही थी। अब उसके दोनों बूब्स मेरे मुँह के बिल्कुल पास थे और में उन्हे कसकर दबा रहा था, तभी अचानक से उसने अपने एक बूब्स को मेरे मुँह में डालते हुए मुझसे कहा कि तुम इनको अपने मुँह में लेकर चूसो और इनका पूरा रस पी जाओ।

फिर मैंने उसी समय उसके एक बूब्स मुँह में भर लिया और में ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा था, थोड़ी देर के लिए मैंने उसके बूब्स को अपने मुँह से निकालकर उसको कहा कि में हमेशा तुम्हारे कसे बूब्स को देखकर सोचता था और हैरान होता था और इनको छूने की मेरी बहुत इच्छा होती थी और दिल करता था कि इन्हे में अपने मुँह में लेकर इनको चूसने के मज़े लूँ और इनका रस पी जाऊं, लेकिन में डरता था कि पता नहीं तुम क्या सोचो और कहीं तुम मुझसे नाराज़ ना हो जाओ। फिर वो कहने लगी कि हाँ आज मुझे तुम्हारे मन की सभी बातें समझ आ रही है और अब तुम क्यों इतनी देर लगा रहे हो तुम्हे किसने मना किया। अब मैंने उसको कहा कि तुम नहीं जानती मीता कि तुमने मुझे और मेरे लंड को कितना परेशान किया है? फिर मीता ने कहा कि अच्छा तो आज तुम अपनी तमन्ना को पूरी कर लो जी भरकर दबाओ चूसो और मज़े लो में तो आज से पूरी की पूरी तुम्हारी हूँ जैसा चाहे तुम मेरे साथ वैसा ही करो। फिर क्या था? मीता की हरी झंडी को पकड़ में मीता के बूब्स पर टूट पड़ा।

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


gujarati bhabhi sexymami ko choda story in hindihindi gandchudai ka safarhindi gf sexmummy ki chut fadidesi ladki sexsex stories in marathi languagedesi bhabhi hindisexi chudaixxx sexy story hindix hindi xxxhindi sex storchudai ki hawasaunty ki chudai hdbahan ne chodanew desi sexybahan bhai sexchudai kahani chachiboor chudai hindi storyindian sex stories marathikamukta chudai kahanisexy bahu ki chudaimaa bete ka pyarchut betioffice main chudaichut chudai storynangi kahanigalti se chud gaihindi sex story in hindi pdfsexy baate videobhai bhan sax storychoti ladki ki chudaisexy batedidi ki chutkamsin chootchut me dandagalti se chudaichut ka bhosda bana diyapati se chudaichudai ki kahaani hindi megair hindi moviejabardasti indian sexauntysexstorymaa ki chudai in hindi storyindian bhabhi sex story in hindichudai fuckm antarwasna comraste mein chudaiaunty ki chudai kahani hindi mesali ki chut videobhabhi ko mc me chodarandi banayatution madam ki chudaischool m chudaimalabari sexsexy kahanyaxxx hindi khaniyareal hindi kahanimaa antarvasnadesi kahani sex storypanjab saxhindi chut ki chudai storydownload pdf hindi sex storiesaurat ka jaalmaa ko chodna chahta humousy ki chudaichudai ki kahani with imagebest desi sex storiesrekha ki sexy photoantarvasna maa behan ki chudaihindi sex mkahani chachi kiki chudai ki kahanihindi chodai khaniyapreeti ki chutkamuk storysex story antarvasna hindiwww chodne ka photochudai kahani hotbhabhi ka balatkar ki kahanigand or chut