Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

सुहागरात में पहली चुदाई


Click to Download this video!

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम सूरज है. दोस्तों में बहुत पहले से ही सेक्स करने के लिए बहुत भूखा था और मुझे जब कोई भी कहानी पढ़कर अपने खड़े लंड को चुप करना होता तो में मुठ मारकर उसको शांत कर दिया करता था, क्योंकि मैंने शुरू से ही यह बात सोच रखी थी कि में अपनी शादी से पहले कभी किसी के साथ सेक्स नहीं करूँगा और मेरा पहला सेक्स मेरी आने वाली पत्नी के साथ होगा.

दोस्तों में अब रोज़ रात को मुठ मारता था और हमेशा इस बात का इंतज़ार करता था कि मेरी शादी कब होगी? में अपनी पत्नी के साथ मेरी पहली चुदाई के सपने अब हर समय देखने लगा था और मुझे अब हर जगह बस वो प्यारी सी चूत जिसमे मेरा लंड अंदर बाहर होता हुआ दिखने लगा था और एक दिन उस भगवान ने मेरे मन की बात को सुन लिया और एक दिन मेरी सगाई हो गई और अब जब भी में शादी से पहले फोन पर अपनी पत्नी से बात करता तो में उससे सेक्स के बारे में ही बात किया करता था और वो भी मुझसे बहुत गंदी गंदी बातें किया करती थी. दोस्तों में उसे हमेशा बताता रहता कि में उसके साथ सुहगरात के दिन बहुत ही बुरी तरह से चुदाई करूंगा, लेकिन दोस्तों वो मेरी बातों पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं करती थी इसलिए मैंने सोच रखा था कि मुझे उसे किस तरह चोदना था? अब आखिरकार मेरी शादी हो गई और सुहागरात की वो रात आ ही गई.

दोस्तों उस दिन सुहागरात से पहले पहले ही मैंने जोश बड़ाने की कुछ गोलियां ले ली थी जिससे सेक्स करने की शक्ति बड़ जाती है. फिर में अपने रूम में गया तो मेरी पत्नी पहले से ही चुदाई करने के लिए तैयार बैठी हुई थी, मैंने रूम का दरवाजा अंदर से बंद कर दिया. फिर में उसके पास गया और में उसे बेड पर लेटाकर उसके ऊपर लेट गया और फिर उसे किस करने लगा और ज़ोर ज़ोर से उसके होंठो को चूसने लगा और वो भी मेरा पूरा पूरा साथ देने लगी और करीब 15 मिनट तक हम दोनों एक दूसरे को ऐसे ही किस करते रहे.

में उसकी जीभ को चूसता रहा और थोड़ी देर बाद मैंने उसकी साड़ी को खोल दिया अब वो मेरे सामने सिर्फ़ ब्लाउज और पेटीकोट में थी. में ब्लाउज के ऊपर से ही उसके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा और मसलने लगा जिसकी वजह से वो सिसकियाँ लेने लगी, फिर मैंने उसका ब्लाउज खोल दिया और वो अब काली कलर की ब्रा में थी और उसके बूब्स इतने बड़े थे कि मुझे उन्हें झूलते हुए देखकर जोश चड़ गया और अब मैंने जानवरों की तरह उसकी ब्रा को खींचकर फाड़ दिया और फिर उसके बूब्स पर टूट पड़ा.

दोस्तों मैंने उसके दोनों बूब्स को इतने ज़ोर से दबाया कि वो पूरी तरह से लाल हो गये थे और अब में धीरे धीरे उसे किस करते हुए नीचे तक पहुंच गया. फिर मैंने उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और वो सिर्फ़ अब काली कलर की पेंटी में थी मुझसे अब रहा नहीं गया और अब मैंने उसकी पूरी पेंटी को एक ही झटके में फाड़ दिया. वो अब मेरे सामने पूरी नंगी हो गई थी और फिर मैंने देखा कि उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था, मैंने पूछा तो उसने मुझसे कहा कि उसे पहले से पता था कि आज उसकी चुदाई का दिन है इसलिए उसने आज ही साफ किए है.

अब में उसकी चूत पर टूट पड़ा और कुत्ते की तरह उसकी चिकनी, प्यासी, चूत को चाटने लगा और चूसने लगा. अब वो ज़ोर ज़ोर से मोन करने लगी और फिर दस मिनट के बाद में अपनी दो उँगलियाँ उसकी चूत के अंदर डालकर ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर करने लगा, लेकिन मेरे यह सब करने के पांच मिनट बाद उससे रहा नहीं गया और उसने बेड पर अपना पानी निकाल दिया और वो झड़ गई. अब मैंने अपने पूरे कपड़े उतार दिए और उससे मेरा लंड चूसने को कहा पहले तो उसने मुझसे साफ मना कर दिया, लेकिन फिर मेरे बहुत बार कहने पर वो मान गई और अब मेरा लंड चूसने लगी.

दोस्तों मेरे लंड की साईज़ 8 इंच है इसलिए उसके मुहं में मेरा लंड बहुत मुश्किल से आया और मैंने फिर उसका सर पकड़कर लंड को धक्का दे दिया और अब में ज़ोर से लंड को उसके मुहं में अंदर बाहर करने लगा जिसकी वजह से फच फच की आवाजें आने लगी. फिर मैंने उसे कुछ देर के लिए उठाया और कुछ देर बाद में उसे फिर से लेटाकर में उसके ऊपर लेट गया. फिर मैंने एक ही झटके में अपना पूरा लंड उसकी चूत की गहराईयों में डाल दिया जिसकी वजह से उसको बहुत दर्द हुआ और वो ज़ोर ज़ोर से चीख उठी वो आह्ह्ह्हह उह्ह्ह्हह्ह प्लीज थोड़ा धीरे करो आईईईईईइ मुझे बहुत दर्द हो रहा है की आवाज़े निकालने लगी.

फिर मैंने कुछ देर उसके दर्द के कम होने का इंतजार किया और उसके बाद मैंने उसको धीरे धीरे चोदना शुरू कर दिया और अब उसकी चूत से खून टपकने लगा जिससे बेड और मेरा लंड पूरा लाल हो गया था और ज़ोर ज़ोर से फच फच की आवाज़े आने लगी और वो ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही थी और रोने लगी. फिर मैंने उसकी आवाज़ को रोकने के लिए उसकी ब्रा को उसके मुहं में डाल दिया और फिर में करीब 30 मिनट तक उसे ऐसे ही लगातार चोदता रहा और अब ऐसे ही चोदने के बाद मैंने उसको डॉगी स्टाइल में बनाकर चोदना शुरू कर दिया. दोस्तों वो अब भी रो रही थी, लेकिन में फिर भी नहीं रुका और लगातार चोदता रहा. उसके कुछ देर बाद मैंने उसको खड़ा होकर चोदने की बात सोची और उसे खड़ा करके मैंने उसके एक पैर को ऊपर कर दिया और फिर उसे चोदता रहा. वो बेहोश होने लगी क्योंकि वो अब मेरे साथ चुदाई करते करते बहुत थक चुकी थी. फिर मैंने उसके गाल पर चार पांच थप्पड़ मारे तो तब वो होश में आई और अब में झड़ने वाला था इसलिए मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाला और उसके मुहं में लंड को डालकर अपना पूरा वीर्य उसके मुहं में डाल दिया.

दोस्तों उसने आज पहली बार मेरा वीर्य पिया था इसलिए उसने कुछ देर बाद उल्टी कर दी और इस तरह सुबह तक मैंने उसे करीब 6 बार थोड़ा रुक रुककर चोदा और मैंने उसकी चूत को चोद चोदकर भोसड़ा बना दिया था, लेकिन उसका रोना अब भी बंद नहीं हो रहा था औ वो लगातार रोती ही जा रही थी क्योंकि उसकी चूत में बहुत दर्द हो रहा था. फिर मैंने उसे एक दर्द कम करने की गोली दे दी जिससे वो कुछ देर बाद दर्द खत्म होने के बाद बिल्कुल शांत हो गई और सो गई. दोस्तों सुबह उससे ठीक तरह से चला भी नहीं जा रहा था इसलिए मैंने उसे दर्द की एक और गोली दे दी और फिर उस दिन जब में सुबह तैयार होकर बाहर गया तो सब लोग मुझ पर हंस रहे थे. मैंने उनसे पूछा कि क्यों हंस रहे हो? तो उन्होंने कहा कि कल रात को तूने भाभी को छिनाल की तरह जमकर चोदा है. मैंने पूछा कि तुम्हे कैसे पता चला? तो उन्होंने मुझसे कहा कि हमारे रूम तक भाभी की रोने और चीखने चिल्लाने की आवाज़े आ रही थी और फिर में उनकी पूरी बात सुनकर वहां से भाग गया.

दोस्तों मेरी शादी के 6 महीने हुए है और एक दिन भी ऐसा नहीं गया जिस दिन मैंने उसकी ठुकाई ना की हो, रविवार को में उसे दिन में तीन बार चोदता हूँ. अब उसके बूब्स ज्यादा बड़े बड़े आकार के होकर उसकी ब्रा से बाहर आने लगे है और अब तो वो खुद हर रात को मुझसे चुदवाती है. मैंने उसे किचन में, बेडररूम में, हॉल में, बाथरूम में, छत पर और हर एक जगह उसकी चूत में अपना लंड डालकर पूरी तरह से फाड़ दिया है. दोस्तों हर सप्ताह उसकी चूत के ऊपर थोड़े थोड़े बाल आ जाते है इसलिए में हर रविवार को उसकी चूत के बालों को साफ करता हूँ और उसके दोनों निप्पल को मैंने मुहं में ले लेकर बहुत लंबे बड़े कर दिए है और उसके ब्लाउज के ऊपर से उसके निप्पल का आकार साफ साफ दिखाई देता है और जब भी घर पर कोई नहीं होता तो में उसको चोदने लगता हूँ और उसे पूरे घर में बिना कपड़ो के घुमाता हूँ और में भी अपने पूरे कपड़े उतारकर नंगा रहता हूँ. दोस्तों मैंने उसके आगे पीछे के दोनों छेद चोद चोदकर इतने बड़े कर दिए है कि उसमे अब दो लंड भी एक साथ आ जाते है.

Updated: March 16, 2016 — 3:37 am
Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


bhai ne bhain ko chodachodne lagasaali ko chodadesi mom storyhorror sex story in hindiwife ki chudaisali ki chudai kahani in hindibhauji ki chootbhosi maribhaiya bhabhi chudai12 sal ki ladki ki chudaichudail ki kahaniteacher ki chudai dekhidesi pure sexdesi chudai desi chudaisexy story real in hindirajjo ki chudaibahan ne bhai ko chodna sikhayagf ko chodakaki ko chodagujrathi bhabhikhala ki moti gand maripinky ki chudaichodai storesbhabi aaye gixxx indian story in hindimarvadi sixjaruratchudai sexy hindiloda aur chuthot story chudai kidi ki chudaitution teacher chudaisexy bhabhi ki chudai storynew stories of chudaistory for sex hindichut me land storymoti chut ki chudaiteacher student ki chudai ki kahanisexy romantic kahaniyamaa bete ki chudai in hindiammi aur baji ki chudaiwww hinde sex store comchut story hindichudai ka darhindi chudai kahani comsex toon storieschudai ka giftchut realchut ki chudai ki filmmastaram sex storynew sexy chudai ki kahanimaa beta chudai hindi kahaniwww kamukata comchut lund hindi kahanimarathi zavazavi kahaniholi sex kahaniantarvasna ki kahani hindisaas ki chudai kahanihindi office sexgay saxynew hindi adult storygao ki chudai ki kahanisuhagrat wali chudaibehan ki kahanichudai ka sukhkahani chut ki hindisex site hindihindi sexy stories auntyhindi hot storyhindi me xxx comsardi me chachi ki chudai