Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

रीना की सेक्सी चूत-2


Click to Download this video!

group sex stories दोस्तों उस समय रीना की कुंवारी गरम चूत ठीक मेरे सामने थी। मुझसे अब रुका नहीं गया और में धीरे धीरे रीना के पीछे जाकर खड़ा हो गया और फिर मैंने रीना की रसीली नमकीन चूत पर अपनी जीभ को रख दिया, मेरी जीभ का पहला स्पर्श अपनी चूत पर महसूस करके रीना एकदम से मछली की तरह छटपटा गयी। फिर मैंने अपने दोनों हाथों से उसके दोनों कूल्हों को अच्छी तरह से पकड़ लिए और अब में भी उसकी गरम चूत को अपनी जीभ से चाटकर चूसकर ज्यादा गरम करने लगा। अब रीना भी बीच बीच में सिसकियाँ लेने लगी थी और उस समय रीना पल्लवी की चूत को चाट रही थी और में रीना की चूत को चूसकर मज़े ले रहा था। फिर कुछ ही देर में रीना ने पल्लवी की चूत का पानी निकालकर ठंडा दिया और इधर रीना भी ठंडी होने वाली थी, क्योंकि रीना अब बहुत तेज तेज सिसकियाँ ले रही थी और फिर वो एकदम से झड़ गयी। फिर मैंने चूसकर चाटकर रीना का सारा चूत रस पी लिया, अब मेरे लंड की भी बड़ी बुरी हालत हो चुकी थी और अब उन दोनों को मेरा लंड चाहिए था, लेकिन उन्होंने मुझे पलंग पर लेटने के लिए कहा तो में सीधा होकर पलंग पर लेट गया। अब वो दोनों मेरे आपस में आ गयी और रीना ने मेरे होंठो पर होंठ रख दिए और वो मेरे होंठो के मज़े लेने लगी।

दोस्तों उस समय मेरी तो आप पूछो मत क्या हालत हो रही थी? में किसी भी शब्दों में लिखकर नहीं बता सकता, उस समय में तो जन्नत में पहुँच गया था। अब नीचे से पल्लवी मेरे लंड को अपने मुहं में लेकर चूसने लगी थी, अपने साथ इतना सब होने की वजह से में बहुत ही ज़्यादा गरम हो गया था और में रीना को ज़ोर ज़ोर के चूमने उसके होंठो के मज़े लेने लगा था। दोस्तों उधर दूसरी तरफ पल्लवी मेरा लंड बड़े मज़े से चूसे जा रही थी, जिसकी वजह से में पागल हुआ जा रहा था। फिर कुछ देर बाद रीना ने कहा कि अब में भी इसका लंड चूसना चाहती हूँ और पल्लवी ने मेरे मुहं के पास आकर अपनी चूत को मेरे मुहं पर रख दिया और रीना मेरे लंड को चूसने लगी। अब में एकदम पागलों की तरह रीना की चूत को अपनी जीभ से चाट रहा था और उधर रीना मेरा लंड चूस रही थी और कुछ देर बाद पल्लवी भी झड़ गई। दोस्तों एक बात तो कहनी पड़ेगी लड़कियाँ सच में लड़को के मुक़ाबले बहुत जल्दी झड़कर ठंडी हो जाती है और दो तीन मिनट के बाद में भी झड़ गया। अब हम तीनों पलंद पर ठंडे होकर लेट गये और में जोश की वजह से बहुत ही ज़्यादा लाल हो गया था, उस कमरे में ए. सी. चालू था, लेकिन फिर भी मुझे बड़ी गरमी लग रही थी और करीब पांच मिनट के बाद में बहुत अच्छा शांत महसूस कर रहा था।

अब एक बार फिर से पल्लवी नीचे मेरे लंड को सहलाने लगी थी और रीना मेरे साथ में चिपककर मेरे चिकने गरम बदन को चूमने के साथ प्यार कर रही थी। अब मैंने रीना को अपनी तरह खींचा और उसको अच्छी तरह से जकड़ लिया, उसके बाद मैंने दोबारा से उसके जिस्म को चूमना शुरू कर दिया और में उसके बूब्स को भी चूसने लगा था, उसके बूब्स बहुत ही मस्त थे, जिसके दोनों निप्पल तने हुए थे। अब मेरा लंड दोबारा इतना सब होने की वजह से खड़ा होना शुरू हो गया था। लंड जोश में आकर तनकर खड़ा हो चुका था। फिर अचानक से यह बदलाव रीना ने देखा और उसने झपटकर मेरे लंड को अपने मुहं में गप से अंदर डाल लिया। दोस्तों उसके मुहं से गर्मी लेकर मेरा लंड एक बार फिर से तन गया, में इस बार उन दोनों की चूत को मारना चाहता था और मैंने रीना से कहा कि प्लीज मुझे अब तुम्हारी चूत मारनी है। अब रीना ने मुझसे कहा कि हाँ ठीक है, लेकिन हम दोनों की चूत तुम्हे बराबरी से मारनी होगी, हम दोनों को यह मज़ा आना चाहिए। फिर मैंने उसको कहा कि हाँ ठीक है में इस काम को पूरा करने की कोशिश जरुर करूँगा और अब मैंने रीना और पल्लवी को एक साथ लेटा दिया और सबसे पहले में रीना के ही ऊपर चड़ गया।

अब मैंने अपने लंड को रीना की सेक्सी चूत के मुहं पर रख दिया और हल्का सा धक्का दिया, जिसकी वजह से मेरा लंड बड़ी ही आसानी से उसकी चूत के अंदर चला गया। फिर अपना आधा लंड उसकी चूत के अंदर जाने के बाद में रुक गया, शायद उसकी चूत कुंवारी थी और उसकी सील नहीं टूटी थी, इसलिए वो इतनी कसी हुई थी। अब मैंने ज़ोर का धक्का लगा दिया और मेरा पूरा लंड चूत के अंदर चला गया, दर्द की वजह से रीना चिल्लाने लगी। फिर मैंने पल्लवी से कहा कि मुहं बंद कर दे और वो रीना को चूमने अपनी जीभ को उसकी जीभ में डालने लगी थी, इसकी वजह से रीना के मुहं से वो आवाज़ें अब बाहर नहीं आ रही थी। अब पल्लवी अपनी चूत में ऊँगली कर रही थी। मैंने पल्लवी के बूब्स पकड़ लिए और में उन दोनों को लगातार दबाने लगा था, जिसकी वजह से पल्लवी भी बहुत ज़्यादा गरम हो रही थी, क्योंकि उसके बूब्स भी कमाल के थे। अब में लगातार धक्के पे धक्के दे रहा था और अचानक ही रीना का शरीर ढीला पड़ गया और उसकी चूत में मुझे गीला गरम सा महसूस होने लगा था। शायद वो झड़ चुकी थी और इधर पल्लवी भी बहुत कामुक हो चुकी थी। दोस्तों में भी अब झड़ने वाला था, लेकिन में अब भी झड़ना नहीं चाहता था और मैंने अपना लंड तुरंत बाहर निकाल लिया और कुछ देर के लिए लंड का टोपा दबा लिया, जिसकी वजह से में झड़कर ठंडा नहीं हो सकता था।

फिर करीब एक मिनट के बाद मैंने अपनी पेंट की जेब से एक सिगरेट निकली और उसको जलाकर पीने लगा और जब सिगरेट खत्म वाली थी उसके पहले ही मैंने सिगरेट को पीते हुए, पल्लवी की चूत में अपने लंड को डाल दिया एक हल्के से धक्के में लंड पूरा अंदर चला गया। अब में अपने लंड से चूत में धक्के पे धक्के देने लगा था और में साथ ही साथ सिगरेट भी पी रहा था, क्योंकि में सिगरेट के मज़े लेने की वजह से ज़्यादा देर तक पल्लवी की चूत की सवारी कर सकता था। फिर मेरी कुछ देर धक्के देने के बाद मेरी सिगरेट खत्म हो चुकी थी और अब मैंने अपना लंड चूत से बाहर निकालकर पल्लवी की गांड पर एक दो बार रगड़ा जिसकी वजह से मेरा लंड अपनी चरम सीमा पर पहुँच चुका था। अब मैंने चूत में लंड को वापस अंदर डालकर ज़ोर ज़ोर के धक्के लगाने शुरू किए जिसकी वजह से उसके मुहं से ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ और चीखने की आवाज निकल रही थी। अब मैंने अपनी पूरी रफ्तार से उसकी चुदाई करना शुरू कर दिया और पल्लवी भी पूरे जोश से अपने कूल्हों को ऊपर उठा उठाकर मेरा साथ दे रही थी। अब मैंने अपने हाथ से पल्लवी के दोनों बूब्स को दबाना शुरू कर दिए और में उसकी चुदाई करता रहा। फिर थोड़ी ही देर के बाद पल्लवी भी झड़ गयी।

अब मैंने अपने लंड को उसकी चूत से बाहर निकालकर में अपने लंड को पल्लवी के मुहं के पास ले गया और अपने हाथ से मुठ मारने लगा था। फिर करीब दस सेकेंड के बाद मैंने अपना सारा वीर्य उसके मुहं में डाल दिया। अब मेरे वीर्य को वो और रीना दोनों ही प्यासी रंडियों की तरह मेरे वीर्य को अपनी जीभ से चाटने चूसने लगी। उन दोनों ने मेरे लंड से निकले पूरे वीर्य को चाटकर लंड को चमका दिया। दोस्तों उन दोनों कुंवारी चूत को अपने लंड से शांत करने के बाद मुझे मन ही मन बहुत ख़ुशी हुई और मैंने जमकर बारी बारी से दोनों के मस्त मज़े लिए और उन दोनों के चेहरे से साफ पता चलता था कि वो भी मेरे इस काम से बहुत संतुष्ट थी। अब में कुछ देर उनके पास वैसे ही लेटा हुआ उनके गोरे जिस्म से खेलता रहा और वो दोनों मेरे लंड को किसी खिलोने की तरह अपने काम में ले रही थी। दोस्तों यह था मेरे उन दोनों कामुक चूत की चुदाई करने का सफर मुझे उम्मीद है कि यह सभी पढ़ने वालो को जरुर पसंद आएगी ।।

धन्यवाद …

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


sexi maamere mama ne chodalambi chudai ki kahanimarvadi saxyhindi sexy storeytrain ki chudaiboor chudai storymeri chut or gandchudai ke kahanemaa ki sexy kahanibhai bahan ki chudai ki kahaniindian bhabhi sex in hindiladki ko chodadesi kamuktamausi ko choda sex storychudai lambe lund semaa ki chootsexy aantimy sex story in hindimazi kakinangi ranihttp www kamukta comindian sex story in hindi languageindian aunty in xxxfucking story in hindimarwadi village sexkamwali sexy videobhabhi ki chut chudai ki kahanibeti ki beti ko chodachut com sexbhabhi aur bhatiji ki chudaiaunty ki guntyhot aunty ki chudai storiesantarvashna comteacher ki mast chudaiaunty sex story hindisexy betihindi chudai kahani pdfbaap beti storychut aur lund sexblue film dikha k chodarandi ki chudai ki khaniyaling yonisexy porn in hindiwww kammukta comsali ki chudai hindi videoanty sex boycomic sex storiesbeta ko chodachudai jabardastiapni chachi ki gand marichodan storymoti bhabhi ki chudaidadi maa ki kahaniyan in hindimami ke sath sexhindi mai sex hindi mai sexbhut chutdidi ki chudai ki khaniyasexy story auntybur chodne ki hindi kahaniwww devar bhabhi sex commummy ki group chudaiantarvashna commaa bete ki sex kahanichut me viryamummy chudai combhai bahan ki chudai ki kahanimaa beti sexmaa ko bete ne choda storyhindi group chudai kahanichudai mom ki