Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

मस्त मस्त चूत का चस्का


antarvasna, kamukta हेल्लो दोस्तो, अगर आपकी दुनिया में कुछ अजीब नही हो रहा है तो मै आज आपके लिए एक अजीब घटना ले कर आया  | इस अजीब घटने के विषय में इतना कह सकता  की ये एक ऐसी घटना है जिसमे एक बेटा उसकी माता को चोदा करता था | ये घटना को अंजाम देने वाला मेरे मौसा का बड़ा लड़का था | वो मेरी मौसी को चोदा करता था | जब वो चुदाई करता था उसकी माता की तब मै छुपकर उसे देखा करता था |  लेकिन मुझे उसे ऐसा करने से रोकना था क्योकि आगे चलकर वो उसके और मेरे मौसा के लिए एक बदनामी की वजय बन सकती  थी | मै कुछ साल के लिए मौसा के गाव पर गया हुआ था वहा पर मैंने कुछ ऐसा पाया जिसकी वजय से मै सम्पूर्ण रूप से हिल गया था | मै गाव छोडकर इसलिए आया था क्योकि मेरे गाव में रोजगार की कोई ख़ास व्यवस्था नही थी | गाव में लोग खेत के भरोसे रहकर उनकी जीविका चलाया करते थे | मेरे मामाता के घर पर मै बचपन से रहा करता था | जब मै बड़ा हो गया तब मैंने एक शहर में रहकर रुपय कमाने का फैसला लिया था | शहर में रहते हुए मुझे एक मित्र मिल गया था | उसने मुझे बताया की अगर तुम्हे कुछ रुपय कमाना है तो तुम्हारे लिए एक व्यवसाय है |

उस मित्र ने मुझे एक बन्दे से मिलवाया उस बन्दे की एक पन्नी बनाने वाली फैक्ट्री थी | उस फैक्ट्री में कार्य करने के दौरान मैंने पन्नी बनाना सिखा था | मुझे पहेले एक सहायक के रूप में कार्य पर लगाया गया था क्योकि उस समय मै बिलकुल नया था मुझे मसीन चलाना नही आता था | पन्नी बनाने के लिए एक बड़ी मसीन का उपयोग किया जाता है | उस मसीन को चलाना पहेले मुझे नही आता था | एक पन्नी बनाने वाला कारीगर पन्नी बनाया करता था मै उसके पास रह कर तयार हो रही पन्नी को उठाया करता था | मै पन्नी का एक बन्डल तयार करने के बाद फिर अगला पन्नी का बन्डल तयार करता था | कुछ साल तक इस कार्य को करने के बाद मुझे मसीन चलाना भी आने लगे | मुझे एक साल तक मसीन चलाने का मौका भी मिला | जब मै मसीन चलाना सिख गया तब मेरी तनखा भी बड गयी | फिलहाल मै शहर पर रहा करता  क्योकि शहर पर रहकर मुझे रुपय कमाना पडता है | मुझे पहेले मेरे मौसा का लड़का ऐसा नही लगता था की वो उसकी माता को चोद सकता है | लेकिन वो बाहर रहने लगा था इसलिए हो सकता है अकेले रहने के कारण मेरे मौसा को लडकियो को चोदने की लत लग गयी होगी | मै गाव छोडकर इसलिए आया था क्योकि मुझे अपनी जीविका चलानी थी | जीविका चलाने के लिए रुपय कमाना पडता है बिना रुपय आप खर्च नही झेल सकते है | खर्च का बोज उठाने के लिए आपको आवस्यकता होती है नौकरी की | जो की अब मेरे पास है उस पन्नी बनाने वाली नौकरी ने मुझे काफी सहायता दिया | आज मै एक आर्थिक तौर से एक मजबूत बन्दा बन चूका |

आर्थिक अवस्था बदलने के लिए मैंने जो फैसला लिया था वो सार्थक सिद्ध हुआ है | आज मै रहीसी सा रहता  | जब भी मै गाव लौटकर जाता  तो मेरे मौसा के लिए कुछ न कुछ खरीदकर अवस्य ले कर जाता  | अपने परिचित लोगो को कुछ न कुछ खरीदकर देने मुझे पसन्द है | जब मै उनके लिए कुछ देता  तो वो भी मुझे उसके बदले में कुछ न कुछ अवस्य देते है | आज मै जो कुछ भी बन पाया  वो मेरे मौसा के द्वारा दिए गए सिख के कारण हुआ है | अगर उन्होने मुझे बचपन से पाला है तो मुझे उसके बदले में उन्हे कुछ लौटाने का फर्ज मेरा है | मै उन्हे कुछ ख़ास तो नही लौटा सकता इसलिए मै उनके लिए कुछ उपहार के तौर पर कुछ खरीदकर दे दिया करता था | जब मै एक दिन छुट्टी पर गाव पहुचा था तब मेरे मौसा ने मेरे लिए कुछ शानदार भोजन बनवाया था | उन्होने भोजन में छोले पुलाव, आलू की रोटी, गुलाब जामुन, आलू मटर की सब्जी और मिटाई इत्यादि बनवाया था | मै उस दिन खुस था क्योकि मेरे आने की खुसी मनाई जा रही थी | मेरे मौसा के घर पर उनके बच्चे भी रहा करते थे | उनके बच्चे बड़े हो चुके थे और उम्र में वो लोग मुझ से भी बड़े है | मेरे मौसा के लड़के एक तरह से मेरे भाई लगते थे | मेरे मौसा का सबसे बड़ा लड़का उस दिन मेरे आने की खुसी में भोजन उसी न बनाया था | उसका बनाया हुआ भोजन मुझे पसन्द आया |

मेरे मौसा के सबसे बड़े लड़के की शादी हो चुकी है | उनकी पत्नी लाजवाब है वो उनको चोदते है जब भी बाहर छुट्टी से उनके गाव लौटकर आते है | वो मुझे मेरी भाभी को कैसे चोदते है मुझे बताया करते थे | वो मुझ से उसकी कोई बात छिपाया नही करता था वो मुझ से कहा करता था अगर तुम किसी को चोदो तो उसे पहले पीट के बल लेटा दो और फिर उसके बाद अपने लंड से उसकी चूत से चोदते रहा | मुझे वो सिखाया करता था की किस अवस्था में किसी लड़की को चोदना सरल होता है लेकिन फिलहाल अभी उसके कोई बच्चे नही है | फिलहाल वो मेरी भाभी को कन्डोम लगाकर चोदा करता है | मेरे मौसा के तीन लड़के है | उन तीन लडको में से सबसे बड़े लड़के की शादी हो चुकी है जिसके विषय में आज आपको उसके चुदाई के कारनामाता सुना रहा  | मेरे मौसा का सबसे बड़े लड़का सतना में रहता है | वो सतना में एक प्राइवेट जॉब करता है | वो भी उस दिन सतना से लौटकर आया था जिस दिन मै शहर से लौटकर आया था | वो भोजन बनाने में माहिर है इसलिए वो हर प्रकार के भोजन आसानी से बना लिया करता था | एक दिन जब मै मौसा के घर पर अकेला था तब उस समय घर के सब लोग एक परिचित के घर में महमान के रूप में गए हुए थे | किसी कार्य के वजय से मै मौसा के घर पर अकेला रह गया था | मेरे साथ मौसा के सबसे बड़े लड़के और मेरी मौसी घर पर रुके हुए थे |  उन्होने माता और बेटे के रिश्ते तक को लांग दिया था | आप किसी को भी चोदो लेकिन अपनी माता को नही चोदो |  मै किसी कार्य के वजय से घर के बाहर मौसी को बता कर चला गया की मुझे आने में देरी हो जाएगी | उसके बाद मै वहा से चला गया |

मै गाव के एक मित्र के पास गया हुआ था | कई साल बाद गाव लौटने पर वो मुझे देखकर खुस था | मै उसके लिए शहर से कुछ लाया था इसलिए उसे देने के लिए मै उसके घर पर गया हुआ था | जब मै मेरे मौसा के घर पर लौटकर आया था तब मैंने पाया की मेरे मामाता का सबसे बड़ा लड़का उसकी माता मतलब मेरी मौसी को चोद रहा था | जब मैंने ये देखा की एक बेटा उसकी माता को चोद रहा था तो मै अचम्भे में पड़ गया | मेरे मौसा के लड़के ने उसका लंड उसकी माता की चूत में डाला हुआ था | उसका गर्म लंड उसकी माता की चूत को भेद रहा था | इसके आलावा वो उसकी माता के दूद को पी रहा था | उसकी माता की चूत को अपनी जीब से चाट रहा था |  मैंने उस दिन जो देखा था उसे बयान करना सरल नही था लेकिन मैंने आज हिम्मत करके आप लोगो के सामने इस सच्चाई को रख दिया है | ये एक ऐसी सच्चाई है जिसने मुझे हिलाया तो था लेकिन अगर मेरे मौसा को इस विषय में कुछ मालूम चल जाता तो सबसे बड़ा अनर्थ हो जाता | मेरे मौसा उस दिन महमान बनकर किसी परिचित के घर पर गए थे इसलिए उन्हे उस दिन कुछ भी नही मालूम चला | मेरे मौसा एक सरल बन्दे है लेकिन उनका बड़ा लड़का एक शातिर खिलाडी है मुझे उस दिन मालूम चला |

मुझे एक दिन फिर अपने मौसा के लड़के को पकड़ने का मौका मिला | किसी जन्मदिन का कार्यकर्म आयोजित किया गया था उस दिन मै घर पर किसी ख़ास वजय से रुका हुआ था तब मेरे बड़ा भाई मौसा का लड़का और उसकी माता भी घर पर रुके हुए थे | मुझे मालूम था अगर मै घर से बाहर चला गया तो मेरा भाई मौसी को चोदने लगेगा | मैंने मौसी से कहा मुझे एक मित्र से मिलने के लिए जाना है और मै भोजन उसी के घर पर करके आऊंगा तो मेरी मौसी ने कहा तुम देर से आओगे तो वहा भोजन करके आना | फिर मै घर से बाहर निकल गया | कुछ देर बाद मैंने घर लौटने के लिए फैसला किया और घर लौट आया  | अब मेरे मौसा के लड़के के पास एक मौका था की वो उसकी माता को नंगा करके चोद सकता था | मै घर के अन्दर घुस गया क्योकि उस समय घर का बाहर वाला दरवाजा खुला हुआ था | एक कमरे में कुछ चल रहा था उस कमरे के पास पहुचकर मैंने मौसी की चुदाई को देखा | मेरा बड़ा भाई मौसी को पूरा नंगा करके चोद रहा था | इस घटना से मुझे अब भरोसा हो गया था की मेरे बड़े भाई का सम्बन्द मेरी मौसी से काफी लम्बे समय से चल रहा है |

मुझे बड़े भाई से कोई समस्या नही थी लेकिन अगर जिस दिन मेरे मौसा को उनकी इस हरकत के विषय में मालूम चलेगा तो काफी बड़ी दिक्कत हो सकती है | मेरा बड़ा भाई उसकी आदत्तो को बदलने के लिए तयार नही था | जब भी कोई कार्यकर्म आया करता था | वो और मेरी मौसी घर पर रुक जाते थे और चुदाई का नंगा नाच नाचते थे | मैंने एक दिन बड़े भाई को सतर्क करने के लिए उन्हे एक दिन मौसी को चोदते हुए रंगे हाथ पकड लिया | जब मेरा मौसा का लड़का उसकी माता के चूत में उसका लंड से रासलीला कर रहा था उससे आनन्द आ रहा था | उसकी माता भी उसे कह रही थी की उसकी चूत को लंड से चुदाई करो | मेरी मौसी के चूत में जब लंड घुस रहा था तो वो कह रही थी तुम बढ़िया चोद रहे हो | उसका लंड लम्बा था इसलिए वो अन्दर तक घुस रहा था | मै दरवाजा के पीछे से उसकी माता के चूत को साफ साफ देख पा रहा था | वो उसकी माता के पिछवाड़े को बिस्तर में लिटा कर चोद रहा था | उसकी माता फिर एक घोड़ी जैसा हो कर उसने उसका पिछवाड़ा उसके तरफ कर दिया था | वो उसकी माता के पिछवाड़े को चूम रहा था | जब उसके लंड से वीर्य बाहर आने लगे तो उसने उसकी माता के दूद के ऊपर उसका वीर्य को गिराया | जब वो चुदाई कर चूका था तब मै उस कमरे में घुस गया | अब मेरे पास एक मौका था की मै बड़े भाई को सलाह दे सकता था | उस दिन मैंने बड़े भाई को ये सलाह दिया | आप जो करते अपनी माता को चोदते हो वो बिलकुल ठीक नही ऐसा करने से एक दिन आप लोग पकडे जाओगे और बाद में आप लोगो को मौसा के सामने माफी मांगना पड़ेगा | मैंने उनको ये सलाह दिया था की आप जो करते हो उसके विषय में एक दिन आपके पापा को सब बता दूंगा अगर आपने मौसी को चोदना नही छोड़ा | उस दिन मेरा बड़ा भाई डरा हुआ था लेकिन जब मैंने उन्हे सलाह दिया की वैसा तो मै कुछ भी मौसा को नही बताऊंगा लेकिन अगर आप ये चालू रकते है तो मै अवस्य मौसा को सब बता दूंगा | उस दिन के बाद से मेरे बड़े भाई ने मौसी की चुदाई करना छोड़ दिया था |

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


chudai ki nangi kahanidesi aunty chudai storybhojpuri chudai kahaninangi aunty ki chootakeli auntydesi hindi xxxgaand hindimaa beta ki sexy kahaniincent chudai storygaand chudaikahani sex chudaichori chupe sexdirty hindi sex storieschudai pariwarma bete sexxxx sex stories freesapna ki sexymaa ko choda hindi storynew desi chootsaas aur damad ki chudaihindi blue storyantarvasna masexy bf story hindimummy ki chut maripapa mummy ki chudai dekhiteacher sex kahanisaxy imgesgaon ki chhori ki chudaikitchen me chodabiwi ki gaand marihindi sexy auntymastram ki kahani in hindichut lund ke potosey storysonam bhabhinangi bhabhi ki chootstory of maa ki chudaipatni ki chudaidevar bhabhi chudai kahanichacha chachi ki chudai ki kahanibollywood sex kahanichudai incestbhua ki gand marisuhagrat chut photodesi chudai desi chudaima sex storysexi marathi kathabehan ki chudai in hindi storybhabhi on brabur aur land ki chudaichut ki chudai kahani hindibehan ko kaise chodumom hindi storybeti ne baap se chudwayabeta sexabbu ne chodasexy storirschut ki batchachi ki chudai with imagechachi ki malishbollywood boob touchladkiyon ki chutfoto saxyall aunty sexmaa ki chudai ki khaniyasaree bhabhi sexdidi ki bur ki chudaiporn story hindi mekhet me chutchudai ki kahani hindi masexy lady ki chudaiindian hindi kamasutragujarati full sexmujhe student ne chodachudai chachi keincest chudaishreya ki chudaichut mein landchoot and landmeri kunwari chut ki chudaibhabhi ko choda hindi kahaniyasexy story hindi maicousin ko chodachut ki chudai lundbhabhi ki suhagratbhabhi ki jabardasti chudai storydirty love story in hindiindian sex storieswww bhabhi ki chudai kahani comsexyhindikahanibhabhi ko neend mein chodachut or chutdesi chudai bhabhichut aur lund storysex stories bestbhabhi chudai story hindichudai sexy story in hindi