Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

मामी का थप्पड़


प्रेषक : मिकी चौधरी ..

हैल्लो दोस्तों.. मेरा नाम मिकी चौधरी है। मेरी उम्र 22 साल, हाईट 5.11 इंच है और रंग गोरा है। दिखने में एकदम सुंदर और में हरियाणा का रहने वाला हूँ। यह कहानी मेरी और मेरी मामी के बारे में है। मेरी मामी की उम्र 35 साल, हाईट 5.3 है.. उनका फिगर 38-32-40 है जो कि उन्होंने खुद मुझे बताया है। वो चहरे से ज़्यादा गोरी नहीं है.. लेकिन शरीर एकदम मस्त चिकना और कसा हुआ है। मेरी मामी एक हाउसवाईफ है और सोनीपत के एक छोटे से गावं में रहती है.. वो हमेशा सूट पहनती है जिसमें वो एकदम सेक्सी दिखती है और उनकी बड़ी गांड और उनके बड़े बड़े बूब्स और भी अच्छे लगते है।

दोस्तों.. में चार साल पहले बारहवीं क्लास के पेपर देने के बाद अपने मामा के घर गया था और वहाँ पर मुझे एक महीना रहना था। में शुरू से ही अपनी मामी की गांड और बूब्स का दीवाना हूँ.. वो हमेशा गहरे गले का सूट पहनती थी और में ज़्यादातर समय उनके घर पर ही बिताया करता था। फिर मुझे धीरे धीरे लगने लगा कि उनका किसी के साथ चक्कर चल रहा है.. क्योंकि वो मेरे सामने भी ज्यादातर टाईम अपने फोन पर ही लगी रहती थी। वो बहुत धीमी आवाज में बातें किया करती थी।

लेकिन जब घर के बाकी सदस्य भी साथ होते तो वो ऐसा कुछ नहीं करती थी। वो मेरे साथ बहुत खुलकर मज़ाक भी किया करती थी और मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में भी पूछती रहती थी। फिर एक दिन मेरे नाना और नानी को उनके अफेयर का पता लग गया। वो लड़का उनके पड़ोस का ही रहता था.. लेकिन मामी ने नानी को डरा दिया कि अगर मेरे मामा को यह बात बताई तो वो ज़हर खा लेगी और अपने दोनों बच्चो को भी खिला देगी.. तो नानी ने भी नाना को मना कर दिया.. लेकिन उनका वो अफेयर वहीं खत्म हो गया। उसके बाद मामी मुझसे और भी ज़्यादा मज़ाक करने लगी.. फिर एक दिन तो मामी ने हद ही कर दी:

मामी : तुम्हारी कितनी गर्लफ्रेंड है?

में : मामी एक भी नहीं है।

मामी : झूठ मत बोल.. किसी को नहीं बताउंगी तू डर मत।

में : मामी जी सच्ची मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है और में तो लड़कियों से बात तक नहीं करता।

मामी : अच्छा चल यह बता तूने कभी किसी को किस किया है या कहीं छुआ है?

में : मामी जी जब कोई गर्लफ्रेंड ही नहीं है तो में किसके साथ ऐसा कर सकता हूँ?

मामी : तो किसी को नंगा या सिर्फ़ ब्रा, पेंटी में तो देखा ही होगा?

अचानक मामी के मुंह से यह बात सुनकर तो में पूरी तरह से हिल गया। मेरे मुहं से कोई भी आवाज़ नहीं निकल रही थी और मैंने नीचे देखते हुए ना में सर हिला दिया.. लेकिन उस दिन ऐसे ही बात खत्म हो गई और अगले दिन जब में उनके घर गया तो मैंने देखा कि मामी नहाकर बाथरूम से बाहर निकली है और उन्होंने एक छोटा सा पारदर्शी सूट पहन रखा था और उसके नीचे नारंगी कलर की ब्रा। उनके दोनों बूब्स बाहर आने को बेताब थे क्योंकि उनका सूट भी बहुत गहरे गले का था। तभी मेरे मोबाईल पर मेरे एक फ्रेंड का फोन आया और में बाहर जाकर बात करने लगा और जब में वापस आया तो मामी मुझे अजीब सी नज़रों से देख रही थी और वो बोली।

मामी : मुझसे क्यों झूठ बोला?

में : मामी जी मैंने आपसे क्या झूठ बोला?

मामी : यही कि तेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है।

में : मामी सही में मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.. में एकदम सच बोल रहा हूँ.. प्लीज़ आप मेरा विश्वास करो।

मामी : तो अब बाहर जाकर किससे बात कर रहा था? क्यों मेरे सामने नहीं कर सकता था?

फिर मैंने मामी को विश्वास दिलाते हुए कहा कि मामी मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.. लेकिन हाँ मुझे एक लड़की बहुत पसंद है। मामी उस वक़्त मुझसे 7.8 फीट दूरी पर खड़ी थी और में बेड के बहुत नज़दीक खड़ा था। फिर मेरे ऐसा कहते ही वो ज़ोर से हंसते हुए मेरी तरफ भागी और स्पीड के कारण मुझसे आकर टकरा गई। मैंने अपने बचाव के लिए हाथ आगे बढ़ाया.. लेकिन वो फिर भी मुझे अपने साथ लेकर बेड पर गिर गई। मामी मेरी बॉडी पर सीधे गिरी थी।

क्या बताऊँ दोस्तों मुझे पहली बार इतना सेक्सी सीन देखने को मिल रहा था.. उसके दोनों बड़े बड़े बूब्स मेरी छाती से लग कर दब रहे थे और में उन्हें बहुत अच्छे से महसूस कर सकता था.. वो एकदम मुलायम थे और मेरी छाती से दबने के कारण उनके बूब्स उनके सूट और ब्रा से बाहर झाँकने लगे थे.. एकदम गोल आकार में और उन्हें देखकर मेरा लंड खड़ा होने लगा था। तभी मामी ने अपना घुटना मेरे लंड के ऊपर रख दिया और धीरे से घूमने लगी और करीब 15-20 सेकण्ड उसी पोज़िशन में रही और वो कह रही थी कि..

मामी : क्या तू मुझे रोक नहीं सकता था? तू मुझे पकड़ लेता तो शायद हम गिरने से बच जाते और वो तो बहुत अच्छा हुआ कि हम बेड के पास खड़े थे और हम बेड पर ही गिर गये। फिर वो सेक्सी स्माईल देते हुए उठते समय मेरे लंड पर अपने घुटने को दबाने लगी और फिर उठकर कांच के सामने जाकर अपने बाल सेट करने लगी। फिर उन्होंने मुझमें एक ऐसी आग जला दी थी जो अपनी सीमा पार कर चुकी थी.. में उठा और धीरे धीरे उनके पीछे गया और जैसे ही उनको पकड़ने के लिये अपने हाथ उनकी कमर के दोनों तरफ से आगे लेकर जाने लगा कि तभी उन्होंने मेरे हाथ पकड़ लिए और घूम गई।

मामी : यह क्या कर रहा है?

में : मामी में आपसे सेक्स करना चाहता हूँ।

पता नहीं कहाँ से मेरे दिमाग में यह बात आई और मैंने हिम्मत करके बोल दी।

ऐसा बोलने पर मेरे पसीने छूट रहे थे और यह बोलने के साथ ही उनको गुस्सा आ गया और मुझे थप्पड़ मारने लगी.. लेकिन मैंने अपना हाथ बीच में ले लिया तो मेरे गाल पर थप्पड़ लगने से बच गया.. लेकिन उन्होंने तभी मेरा हाथ पकड़कर मुझे धक्का दिया और घर से निकल जाने को कहा और साथ में कहा कि में तेरी मम्मी को यह बात बताउंगी। तो मेरी तो जैसे गांड फट गई हो और मेरा मुहं बिल्कुल रोने जैसा हो गया था। फिर मैंने उनसे विनती की.. प्लीज़ आप मेरी मम्मी को मत बताना.. प्लीज़ मुझे माफ़ कर दो.. दोबारा आगे से ऐसा कुछ नहीं होगा।

फिर जैसे ही में मुड़कर जाने लगा तो मामी बोली कि में समझती हूँ.. इस उम्र में ऐसा हर किसी के साथ होता है। लेकिन यह तो देखो कि तुम जिसके साथ ऐसा करने की सोच रहे हो वो कौन है? में तुम्हारी मामी हूँ और क्या मेरे साथ ऐसा सोचते हुए तुम्हें शरम नहीं आई? क्या तुम्हें डर नहीं लगा और मुझे पता है कि तुम यह सब क्यों कर रहे हो? तुम सोचते हो कि क्या में एक रांड हूँ.. जो किसी को भी अपनी चूत दे दूंगी।

उन्होंने ऐसा इसलिए बोला क्योंकि जब उनके अफेयर का पता लगा तो में वहीं पर था। फिर मैंने बहुत डरते हुए कहा कि आप हो ही इतने सेक्सी कि में अपने आप को रोक नहीं पाया और वैसे भी जब आप मेरे ऊपर गिरे थे.. तब से मेरा दिमाग बिल्कुल खराब हो गया था। प्लीज़ मुझे एक बार फिर से माफ़ कर दो। फिर में अपना फटी हुई गांड जैसा मुहं लेकर वहाँ से भाग लिया। फिर उसके बाद में मामा के गावं तो जाता था.. लेकिन उनके घर पर नहीं जाता था। मुझे उनके घर पर गए हुए पूरा एक साल हो गया था।

एक दिन मामी हमारे घर पर आई हुई थी और में उनसे नज़रे नहीं मिला रहा था। वो रात का टाईम था.. तो मेरी नानी ने बोला कि अपनी मामी को घर तक छोड़कर आ जा और फिर ऐसा कहते ही मामी ने मुझे एक सेक्सी सी स्माईल दी और हम दोनों पैदल जा रहे थे। तभी मामी ने हमारे बीच की ख़ामोशी को तोड़ा और कहा।

मामी : क्या बात है? तू मुझसे बात क्यों नहीं करता है?

तो मैंने कोई जवाब नहीं दिया और में नीचे मुहं करके चुपचाप चलता रहा।

मामी : क्या तू नाराज़ है मुझसे? और क्या तुझे अभी भी मुझसे डर लग रहा है?

में : ( तो में थोड़ी हिम्मत करके बोला ) भला में क्यों डरूंगा?

मामी : क्यों भूल गया क्या वो बात.. उस दिन तो तेरी गांड बहुत फट रही थी।

फिर ऐसे शब्द उनके मुहं से सुनकर में थोड़ा नॉर्मल हुआ और में भी उनसे थोड़ी बहुत बातें करने लगा।

में : में नहीं भूला.. मुझे सब पता है।

मैंने फिर से थोड़ी हिम्मत करके कहा कि मामी प्लीज़ मेरी गर्लफ्रेंड बन जाओ ना।

मामी : थोड़ी देर मेरी तरफ देखते हुए बोली कि चल ठीक है आज से में तेरी गर्लफ्रेंड हूँ।

फिर मेरी जेब में एक चोकलेट थी तो मैंने उनको वो दे दी।

फिर उसके अगले दिन।

मामी : क्या बात है आज तू बड़ा खुश नज़र आ रहा है?

में : हाँ अब मेरी भी एक गर्लफ्रेंड जो बन गई है इसलिए में बहुत खुश हूँ।

फिर ऐसा कहते हुए में उनके बूब्स की तरफ घूर घूर कर देखने लगा।

मामी : तू ऐसे क्या देख रहा है और तुझे क्या चाहिए?

में : मुझे आपके साथ सेक्स करना है

फिर ऐसा कहते हुए उन्होंने मुझे ज़ोर से पीछे धक्का दिया और फिर किचन में जाकर काम करने लगी।

में : मामी प्लीज़ एक बार मुझे यह सूट निकालकर दिखाओ ना मुझे आपके बूब्स और गांड बहुत मस्त लगती है (दोस्तों हम एक ही दिन में एक दूसरे के साथ बहुत ज़्यादा घुल मिल गये थे)।

मामी : अभी नहीं।

में : आपके कितने यार है?

मामी : (हंसते हुए बोली) फिर उन्होंने चार पांच लड़को के नाम बताये.. जिसमें से तीन तो उनके देवर यानी मेरे मामा थे।

में : तो मेरा नंबर कब आएगा?

मामी : वो तो आने वाला समय ही बताएगा।

फिर मेरी छुट्टियाँ खत्म हो गई और में अपने घर आ गया और फिर अगली छुट्टीयों में फिर से में उनके घर गया और जाते ही मैंने उन्हें एक फ्लाईंग किस दिया और आँख मारी.. वो हँसने लगी और उन्होंने मुझे एक सेक्सी स्माईल दी और अपने काम में लग गई। मेरी नानी जी बाहर बैठी थी और मामी किचन में काम कर थी तो में किचन में गया और उनको बोला कि मुझे दूदू पीना है और वो भी ताज़ा।

मामी : तेरी नानी बाहर बैठी है.. थोड़ा धीरे बोल वरना वो सुन लेगी तो बहुत बड़ा पंगा हो जाएगा।

तो में वहाँ से बाहर आ गया और फिर थोड़ी देर बाद मामी जब अपने बेडरूम में गयी तो में भी उनके पीछे पीछे चला गया और अंदर घुसते ही उनको पीछे से पकड़ लिया और अपने हाथ आगे ले जाकर उनके बूब्स को दबाने लगा। उउफ्फ़ क्या मज़ा आ रहा था? में पहली बार किसी को छू रहा था और किसी के बूब्स को दबाने का मेरा यह पहला अनुभव था और में पूरा ज़ोर लगाकर दबा रहा था। तो मामी के मुहं से सेक्सी आवाज़ें आने लगी और वो दर्द के मारे सिसकियाँ ले रही थी और कह रही थी आहह आआहह उूफफ्फ़ माँ आआहह प्लीज़ मिकी छोड़ दे। तेरी नानी अंदर आ गई तो क्या होगा? उईईई बहुत दर्द हो रहा है धीरे से दबा ना.. लेकिन वो अपने बचाव के लिए कुछ भी नहीं कर रही थी।

इसका मतलब उनको वो सब करना बहुत पसंद आ रहा था। फिर मेरा लंड तनकर लोहे के सरिये जैसा हो गया था और में अपने लंड को उनकी गांड में दबाने लगा.. वो भी मेरे हाथ पर हाथ रखकर अपने बूब्स दबवा रही थी। फिर उन्होंने मेरा लंड अपने हाथ में लिया और ट्राउज़र के ऊपर से ही सहलाने लगी और फिर मैंने उनको दीवार से लगा दिया और किस किया.. सिर्फ़ दो तीन सेकण्ड के लिए और पता नहीं उनके दिमाग में क्या आया? वो बाहर की तरफ भागने लगी।

मैंने उनको पीछे से बहुत मजबूती से पकड़ लिया और कमर से पकड़कर बेड पर उल्टा गिरा दिया और अपने लंड को उनकी गांड पर दबाने लगा.. मैंने अपना लंड बाहर निकाला और उनके हाथ में दे दिया तो उन्होंने उसको छोड़ दिया और आग्रह करने लगी कि प्लीज़ अभी कुछ मत करो। लेकिन फिर मैंने भी उनसे आग्रह किया कि मामी प्लीज़ एक बार मेरा माल निकाल दो फिर चले जाना.. प्लीज़ एक बार इसको चूस लो.. लेकिन उन्होंने साफ मना कर दिया तो मैंने उनके सूट को हल्का सा ऊपर उठाया और सलवार को नीचे खींचने लगा तो वो नहीं निकली क्योंकि उन्होंने उसे बहुत कसकर बांध रखा था और पकड़ भी लिया था।

मैंने उनकी सलवार के ऊपर से ही उनकी गांड की लाईन में लंड को डाल दिया और ऐसे ही ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा। मेरा यह पहला टाईम था तो मेरा वीर्य जल्दी ही निकल गया और उनकी सलवार खराब गई। फिर में साईड में लेट गया और फिर मामी ने बोला कि में वादा करती हूँ कि हम फिर कभी करेंगे और वो उठकर बाथरूम में अपने कपड़े साफ करके आई और उन्होंने अपनी ड्रेस चेंज कर ली और फिर में वहाँ से चला आया।

दोस्तों.. वो मेरी लाईफ का सबसे अच्छा दिन था और उसके बाद तो में जब भी उनके पास जाता हूँ तो वो ना सिर्फ़ मुझे अपने बूब्स पिलाती बल्कि कभी कभी चूत भी चटवाया करती है और में उन्हें बहुत गरम करता रहता हूँ। कभी घर वालों के होते हुए उनकी गांड दबा देता हूँ तो कभी बूब्स दबा देता हूँ.. लेकिन आज तक वो मेरे सामने पूरी नंगी नहीं हुई है। फिर भी में उसे ज़बरदस्ती नहीं बल्कि प्यार से चोदना चाहता हूँ.. इसलिए तो अब तक मैंने कुछ नहीं किया और में इस इंतज़ार में हूँ.. कि वो खुद यह कहे कि मिकी मुझे चोद।

Updated: May 20, 2015 — 3:25 am
Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


lund aur gaandhindisex storysghar ki randiyangandi chut ki photobhai behan ki chudai ki hindi kahanidesi hindi chudai storybehan ki chudai hindikuwari chut hindi storymummy ko papa ne chodaxxx sumanhindy sexychut ki chudai ki kahaniclass teacher ne chodafull sex story hindinew sex story in hindi languageantavasna commast chudai in hindibhai behan chudai hindi storyall sex kahanihow to phone sex in hindibeta ne maa ko chodababi dewarchudai ki bateinhindi sex savita bhabhiladki ki chudai comdesi hindi khaniyasesy storybest chudai ki storymoti aunty ki chudaimeri mast chudai ki kahanifuddi ki chudaisex in india in hindidesi thukaihandi xxxbhabhi ki chudai hindigandi kahania with photolatest hindi sex stories in hindimajedar sexy kahaniyapatni ki chudai hindigay desi fucksex story bhabhi ki chutmy chudaichoot land storymausi ki chudai kahani hindisex chat exbiibhabhi ki chut me unglimummy bete ki chudaimummy ki gand maribhai se chudaikhel me chudaihindi chudai historylatest sexy hindi storymaa ki chut chudailand ki chutchoot ranibhabhi gand picmaa ko car mein chodabehan ki chudai newbhikhari se chudaierotic sexy stories in hindidesi bahu chudaibhains ko chodagand chodupariwarik chudai samarohm antrvasna comlatest hindi sexy storyfree chudai ki kahaniantrvasana comghar me sexindian suhagrat sex combhai ne jamkar chodabeti chudaihindi indian chudai storybhabhi chut ki chudaiindian sec storyhow to sex with girl in hindiraste mein chudaichudai ki kahani with foto