Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

मामा के घर में मजे -2


Click to Download this video!

desi porn kahani तब बापू बोले कि हाँ-हाँ क्यों नहीं? मगर पहले जरा बात तो पूरी हो जाने दे। तब पूजा बोली कि और क्या बात रह गई है? तो तब मामा ने कहा कि कुछ नियम सबसे पहले की हम जब सब अकेले में होंगें तो एक दूसरे के सामने नंगे रह सकते है और दूसरी ये बात किसी और कुछ पता नहीं चलना चाहिए और कोई एक दूसरे के साथ जबरदस्ती नहीं करेगा। तब हम सबने एक आवाज में कहा कि मंज़ूर है। तब मामा बोले कि आज रात के खाने के बाद तेरी मामी तुम्हारे सामने मेरा लंड चूसकर बताएगी कि लंड कैसा चूसा जाता है? अब हम सब खाने पर लग गये थे। अब मेरा लंड तो बस सोने का नाम ही नहीं ले रहा था और अब में देख रहा था कि मामा और कुणाल की पेंट में भी यही हाल था।

फिर हम सब खाना खाने के बाद लिविंग रूम में फिर से एकत्रित हुए। फिर मामी ने बीच कमरे में खड़े होकर कहा कि चलो सब अपने कपड़े उतार दो, जरा में भी तो देखूं की मेरे बेटो के लंड कैसे लगते है? तो तभी हम सब नंगे हो गये। अब तीन खड़े लंड दो औरतों को प्रणाम कर रहे थे। फिर मामी ने पहले मेरा लंड अपने एक हाथ में लिया और बड़ी प्यार से उसे मसलते हुए कहा कि अभी तू तो अपने मामा से भी हैंडसम है, जरूर तेरा वाला ज़्यादा मोटा और लंबा है। अब मामी कुणाल की तरफ घूमकर उसके लंड को सहलाने लगी थी। अब में मामा की तरफ देख रहा था, उसका लंड मेरी बहन के हाथ में था और अब मेरी नजर मेरी बहन की सख्त और गोल गांड पर थी। अब मेरा दिल चाह रहा था कि उसकी गांड पकड़कर आम की तरह दबाऊं। अब शायद मामा ने मुझे देखकर मेरी सोच का अंदाज़ा लगा लिया था और कहा कि अरे अभी सिर्फ़ देखता ही रहेगा क्या? आ पकड़ ले उसकी गांड, चूम ले। अब में आगे बढ़ने ही वाला था कि तभी मेरी मामी बोल पड़ी कि नहीं आज तुम बाप बेटी मज़े ले लो, आज तो ये दोनों लंड मेरे है, इन्हें तो में एक साथ लूँगी, क्यों रे अभी चोदेगा नहीं अपनी मामी को? कुणाल क्या कहता है? क्या तुम दोनों को में अच्छी नहीं लगती?

फिर तब मैंने कहा कि क्या कहती हो मामी? तुम तो किसी से कम नहीं हो, मेरा लंड तो हमेशा तुम्हारा है। तब मामी बोली कि हाँ तो फिर करीब आ जाओ, पहले तुम दोनों का लंड चूसकर तुम्हारा रस पी लूँ, वैसे भी ऐसा लगता है कि तुम्हारा ये ज़्यादा देर तक रहने वाला नहीं है और मुझे तो देर तक चुदवाना है, तो पहले एक बार रस निकाल दूँ तो दूसरी बार तुम देर तक चोद सकोगे। अब मामी अपने घुटनों पर आकर हम दोनों भाईयों के लंड को मसलने और सहलाने लगी थी। फिर मामी ने पहले मेरे लंड को अपने मुँह में लिया और पलटकर पूजा से कहा कि देख पूजा लंड ऐसे मुँह में लेते है। अब मेरा लंड उसके मुँह में बहुत अच्छा लग रहा था। फिर में अपनी आँखें बंद करके उसके मुँह का मज़ा लेता रहा। अब वो हम दोनों का लंड चूसने लगी थी। फिर जब मुझे ऐसा लगता कि मेरा लंड झड़ने वाला है तो तब वो मेरे लंड को छोड़कर कुणाल का लंड संभालती और फिर जब उसको लगता की लंड झड़ने वाला है, तो मामी मेरा लंड अपने मुँह में लेती थी।

अब उधर पूजा पहले तो जरा डर-डरकर और फिर जैसे मामा उसे बताते गये और वो मामी को देखती रही। फिर तब वो ऐसे चूसने लगी कि जैसे सालों से चूस रही हो। फिर तब मामी ने उससे कहा कि जरा संभलकर बेटी लंड को जितनी देर तक नहीं झड़ने दोगी उतना ही मज़ा तुझे भी मिलेगा और उन्हें भी और फिर जब वो कहे कि झड़ने वाला है तो तू उसे छोड़कर कहीं चूम ले और जब वो कहे कि वो नहीं रुक सकते तो अपने मुँह में ले और उनका रस पी जाना, लेकिन अब ऐसा लग रहा था कि मेरी बहन को कुछ सिखाने की जरूरत नहीं थी। अब वो तो बड़े मज़े से अपने पापा का लंड चूस रही थी। अब इधर कुणाल झड़ने ही वाला था। अब मेरी मामी मेरे लंड को ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगी थी और हम दोनों के लंड को अपने एक-एक हाथ में लेकर अपने मुँह के करीब ले जाकर आगे पीछे करती रही। तो तब पहले कुणाल और फिर मैंने अपने पानी की धार निकाल दी। तो तब जितना हो सका मामी ने हमारा रस अपने मुँह में लिया और बाक़ी का अपने बड़े-बड़े बूब्स पर गिरने दिया और अपनी स्किन पर क्रीम की तरह लगाने लगी थी।

अब हम दोनों ख़त्म ही हुए थे कि उधर पूजा की चीख सुनाई दी। अब बापू ज़ोरदार आवाज के साथ अपना लंड उसके मुँह में अंदर बाहर करके चोद रहे थे और झड़ रहे थे। फिर कुछ रस बाहर निकलकर पूजा के मुँह के कोनों से बाहर भी आ रहा था। फिर जब हम तीनों सोफे पर बैठ गये, तब मामी ने कहा कि क्यों पूजा बेटी? अब भी कहोगी छी मुँह में नहीं लेगी? तो तब पूजा बोली कि नहीं मम्मी, बापू का जूस बड़ा मज़ेदार है, ले तो मुँह में रही थी मगर मज़ा मेरी चूत तक पहुँच रहा था। तब मामी बोली कि हाँ बेटी चाहे किधर भी लंड हो आखिर मज़ा चूत में ही पहुँचता है और सच पूछो तो जब तक चूत के छेद में लंड का रस ना पड़े तब तक चुदाई पूरी नहीं होती है। तो तब पूजा बोली कि ऊई माँ, क्या इतना बड़ा लंड मेरी गांड में आएगा? इसे तो अपनी चूत में आने की सोचकर भी डर लगता है।

फिर तब मामी बोली कि चूत में भी आएगा बेटी और गांड में भी आएगा, हाँ यह जरूर है की पहली बार तुझे चूत में दर्द होगा मगर उतना नहीं अगर चोदने वाला अनाड़ी ना हो तो वो तुझे आहिस्ता-आहिस्ता ले जाएगा और तेरे पापा कोई अनाड़ी नहीं है, वो तो मेरी गांड ज्यादा मारते है। दोस्तों इसके बाद हम सबने मिलकर चुदाई का खूब मजा लिया और अब तो पूजा चुदवाने में भी अनुभवी हो चुकी है। अब तो जब भी मन होता है तब दोनों रंडियों को पकड़कर चोद देते है ।।

धन्यवाद …

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


mami ki kahanisavita aunty storyteacher sex story in hindidardnak chudai kahanimastani chutteacher ko jamkar chodamaa bete ki chudai new storyhindi chudai kahani newchoot chudai in hindibhabhi ke sath holimarwadi bhabhi sexymaa ko choda menemaa chudai ki storysambhog kalachudai chut kisuhagraat story in hindisali ko choda storyaunty sexy storyread sexy story hindihindi sexy khaniamast story in hindibadi gand ki chudaichikni chootantarvasana hindi comnew hot chudaiwww hindi sexjeeja sali ki chudai15 saal ki chootsexu kahaniyachoda chodi hindi kahanimastram kahani hindiwww porn story comsexy aunty chudai storyholi k din chudaigirl ki chootsagi mousi ki chudaigand maraikhet me chudaichudan chudairishton me chudaichodne ki kahani in hindi videohindisexstorysdidi ka doodhchudi kahanimumbai randi sexindian auty sexguju sexnaukrani sex storysexy hindi story chudaimausi ki chudai hindi maiboor chodaigay sex in hindifucking stories in hindi fontmaa bete ki chudai ki new kahanimummy ko choda hindiuncle aunty ki chudai dekhichudai padosansexi holiboy ne boy ki gand marihindi story maa ki chudaiindian hindi chudai comchut land ki hindi storybus sexxaunty ki gand mari hindifree hindi sex historyx chudai comdesi choot gaandhindi sex kahaniyaanhindi femdom storiesmaa ki choot pics