Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

जिस्म की जरूरत-21


desi chudai ki kahani उस वक्त ये बात कोई मायने नहीं रखती थी। चरमोत्कर्ष की ऊँचाई से नीचे आते हुए हम दोनों माँ बेटे अगल बगल टाँग में टाँग फ़ँसा कर, दोनों पसीने में तरबतर निढाल होकर हाँफ़ रहे थे, और एक दूसरे को जकड़े हुए लेटे हुए थे। नींद के गहरे आगोश में जाते हुए मेरी आँखों के बंद होने से पहले मुझे बस इतना याद है कि विजय मेरे मम्मों को अपनी बाहों में जकड़ते हुए मेरी गर्दन को चूम रहा था।

*****

अगले दिन जब मेरी आँख खुली तो होटल के रूम की खिड़की से आती तेज धूप बता रही थी कि दोपहर हो गयी थी। मैंने विजय को अपने पास बैठकर मुझे निहारते हुए पाया।

”गुड मॉर्निंग मम्मी,” विजय ने मुझसे कहा, और फ़िर मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिये। ”मैं तो बहुत देर से जागा हुआ हूँ, शायद मेरा छोटू तो मेरे से भी पहले उठ गया था,” विजय मुस्कुराकर अपने लण्ड की तरफ़ इशारा करते हुए बोला।

मैं खिलखिला कर हँस दी, और विजय के लण्ड को हल्का सा सहलाकर अपने हाथ में पकड़ में पकड़ कर हिलाने लगी।

विजय खुश होकर मुझसे जोरों से चिपक गया, और मेरे होंठों को चूमने लगा। शायद विजय मुझे इतना प्यार से चूमकर अपनी व्यक्त ना की जा सकने वाली खुशी और प्रसन्नता का इजहार कर रहा था।

मैं उसके लण्ड को जल्दी तेजी से मुठियाने लगी, विजय ने एक पल को चूमना छोड़ कराहने लगा।

”जोर से करो मम्मी, आह्ह्…” विजय चीख कर बोला।

”ना बेटा,” मैंने मुस्कुराकर जवाब दिया। और फ़िर विजय को सीधा लिटाते हुए, उसके ऊपर सवार होकर मैंने थोड़ा गम्भीर होते हुए कहा, ”मैंने ठान लिया है कि जब भी हम दोनों साथ होंगे, मैं एक पल भी जाया नहीं होने दूँगी बेटा।”

विजय ने हामी में सिर हिला दिया, और मैंने उसका लण्ड पकड़कर अपनी चूत के छेद पर लगा दिया। ”अगले हफ़्ते जब तक गुड़िया बुआ के घर से वापस नहीं लौटकर आती, मैं हर एक पल को जीवन भर सहेज कर रखना चाहती हूँ, विजय बेटा,” मैंने उसके मूसल जैसे लण्ड के ऊपर अपनी पनियाती मुलायम चूत को रगड़ते हुए कहा। ”और गुड़िया के लौटने के बाद तब की तब देखेंगे।”

जैसे ही विजय के लण्ड के ऊपर बैठते हुए उसको अपनी चूत के अंदर लिया, हम दोनों एक साथ कराह उठे। लण्ड ईन्च दर ईन्च मेरी चूत में घुसता जा रहा था, मैंने आह भरते हुए विजय से पूछा, ”अपनी मम्मी को ऐसे ही प्यार करते रहोगे ना बेटा?”
मैं एक गहरी साँस लेकर रुक गयी, विजय का लण्ड अभी आधा ही मेरी चिकनी चूत में घुसा था, तभी हम दोनों की आँखें मिल गयी। विजय रूँधे गले के साथ किसी तरह बोला, ”हाँ मम्मी हमेशा…”

और फ़िर मेरी गाँड़ की गुदाज गोलाईयों को अपने हाथों में भरकर विजय मुझे अपने लण्ड के ऊपर उछालने लगा, बस एक दो बार उछालने के बाद उसका लण्ड पूरा मेरी चूत के अंदर घुस गया। जब मैं विजय के ऊपर सवारी कर रही थी, तब अपनी माँ की चूत की चिकनी मखमली दीवार का घर्षण अपने लण्ड पर ऊपर से नीचे तक मेहसूस करते हुए विजय गुर्राने लगा था, मेरी आँखें बंद होने लगी थीं, और मेरे बड़े बड़े मम्मे हर उछाल के साथ उछल रहे थे।

”ओह मम्मी हम ऐसे ही चुदाई किया करेंगे, हमेशा… ऐसी ही चुदाई… बहुत मजा आता है मम्मी…आई लव यू मम्मी…!”

”म्म्मुआआ… आई लव यू बेटा!” मैं धीमे से बोली, अपने बेटे के लण्ड को एक बार फ़िर से अपनी चूत में जड़ तक घुसा कर, मैं खुशी के मारे काँप रही थी।

मुस्कुराते हुए मैं थोड़ा आगे झुक गयी, मेरे मम्मे विजय की छाती से मसलने लगे, हम दोनों के होंठ एक दूसरे को छूने लगे, मैं अपनी प्यासी चूत को विजय के फ़नफ़नाते लण्ड पर रगड़ते हुए मानो दही बिलोने लगी। मुझे विजय के लण्ड का अपनी चूत में घुसे होने का एहसास बहुत अच्छा लग रहा था, जिस तरह से विजय का लण्ड मेरी चूत को पूरी तरह भर देता था, चूत के छेद को खोलते हुए, चूत की गुफ़ा में मजे से अंदर घुस जाता था, और चूत के अंदर हर संवेदनशील हिस्से को प्यार से सहला देता था, वो एक मस्त एहसास था।

मैं आनंदित होकर मस्ती में डूबी हुई थी, और विजय अपने लण्ड को मेरी चूत में घुसाकर, हर झटके के साथ अपनी गाँड़ ऊपर करते हुए, मुझे अपने ऊपर उछाल रहा था, हम दोनों के बदन स्वतः ही चुदाई की ताल से ताल मिला रहे था।

अपने बेटे विजय के खुले हुए होंठों को चूसते हुए, एक माँ के मुँह से जो वाक्य निकला उसके हर शब्द में सच्चाई थी : “बेटा, हम दोनों हमेशा ऐसे ही किया करेंगे… हाँ सच में बेटा… हाँ…”

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


maa ki chudai commarwadi aunty storysexy ladki sexchatpatikamasutra book in hindi languagejanwar se chudai ki kahaniinscet sex storiesbest indian chootsuhagrat ki chudai comsaas damad ki chudailand ki kahanibahan ki chudai ka videosexi auntinangi bhabhi ki chootbhai se chudai ki storysex story gujratichut me mota landdoodh xxxphoto chudai kenew sex story in hindi languagemom ki chudai ki kahanireal kahani chudai kihindi me chudai moviedoktar sex comantarvasna hindi to englishlong chudai ki kahanibhabhi ko holi me chodahindi sexy stoorychudai ki hindi me storychut ki chudai onlineindian desi chudai storychut chudai storyhindi sex com freehot aunty in sexy sareesex punjabi hindibhabi ki chudai sex comhinde sxe storechudai ghar kigames for kitty party in hindisexy story didisasur bahu ko chodajija sali hot storychudai ki kahani bhai ke sathsex story hindi chudaimast ladki chudaichut ki kahani hindi mainchoot n lundsexy picture kahanimaa bete ki chudai hindinai bahu ki chudaiaunty sexy sexsuhagrat ko chudaihindi free sex storygirlfriend ki chuchichudai hindi me kahaniaunty ki chudai new storysexi kahani hindi memaa beta sexy kahanigaand hindibahan ki chuchichaachi ki chudaibehan k sath sexnew hindi chudai storysasur ne choda hindiwww chut ki chudai comnangi boobsbhabhi ki chudai ki story hindischool ki madam ko chodachoot ke darshanaunty k chodachudai ki kahani behanpuri family ki chudaimarathi sec storiesgay fuck storiesgandi chudai storydasi khaniachut chudwayasex story of in hindisexy kahani mamischool m chodasex novel hindisexy choot hindimom ko chodne ke tarikeantarvasna conchut ka rassmoti aunty ki gand mariwww suhagrat sexxxx sexy story hindichudai ki kahani hindi me free