Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

बहन को होटल में कुतिया बनाकर रगड़ा


Click to Download this video!

हैल्लो दोस्तों, आज में आप लोगों को एक कहानी सुनाने जा रहा हूँ. मेरी 2 बहने है और मेरी पहली बहन जिसका नाम नमिता है और वो 21 साल की है. दोस्तों मैंने अपनी बड़ी बहन नमिता की चुदाई की? लेकिन में आप लोगों को मेरी छोटी बहन सोनिया की चुदाई की दास्तान सुनाने जा रहा हूँ. ऐसा नहीं है कि में सोनिया को शुरू से पसंद करता था, में तो नमिता को पसंद करता था, लेकिन हम लोगों के साथ ऐसी स्थिति बन गई कि मेरी सोनिया के साथ भी चुदाई हो गई. दोस्तों ये कहानी एकदम सच्ची है.

ये तब की घटना है जब में नमिता को चोद चुका था. ये घटना करीब 5 महीने पहले की है, मेरी दूसरी बहन जिसका नाम सोनिया है, वो 20 साल की है. दोस्तों में 27 साल का हूँ और में कानपुर में रहता हूँ. मेरी बहन सोनिया (18 साल की) जो कि हॉस्टल में रहकर पढ़ती है.

कानपुर से करीब 200 किलोमीटर दूर है. अब सोनिया की छुट्टियाँ शुरू होने को आई थी इसलिए वो घर आने वाली थी फिर उसने फोन करके बताया कि वो अपनी दोस्त के साथ ट्रेन से आ जाएगी, वैसे हमेशा जब सोनिया की छुट्टियाँ शुरू होती थी तो में ही उसे लेने जाता था.

अब जिस दिन सोनिया आने वाली थी उस दिन में घर पर ही था और उसके आने का इंतजार कर रहा था. फिर तभी फोन आया कि सोनिया ट्रेन से नहीं आ रही है, क्योंकि उसकी दोस्त अपने किसी रिश्तेदार के पास चली गई है इसलिए मुझे सोनिया को लेने जाना होगा. अब उस वक़्त करीब 3 बज रहे थे और सोनिया का हॉस्टल घर से करीब 200 किलोमीटर दूर था.

अब अगर में ट्रेन से जाता तो लेट हो जाता और उस दिन हॉस्टल में ही रहना पड़ता इसलिए मैंने माँ से कहा कि में सोनिया को लेने कार से चला जाता हूँ, तो माँ ने मुझे इज़्जात दे दी फिर में कार लेकर निकल पड़ा तो मुझे सोनिया के हॉस्टल पहुँचने में करीब 4 घंटे लग गये.

उस समय करीब 7 बज रहे थे फिर में जैसे ही वहाँ पहुँचा तो मैंने देखा कि मेरी प्यारी बहन सोनिया हॉस्टल के बाहर खड़ी होकर मेरा इंतज़ार कर रही थी, क्योंकि हॉस्टल की सभी लड़कियाँ चली गई थी. फिर मेरे पहुँचते ही उसने आकर मुझे गले लगा लिया और बोली कि भैया मुझे लगा की आप नहीं आओगे.

फिर मैंने कहा कि में तो आने ही वाला था, लेकिन तुमने ही तो मना कर दिया और तुमने बोला था कि तुम किसी सहेली के साथ आओगी फिर उसने माफ़ी माँगी, तो मैंने फिर से उसे गले से लगा लिया. अब जब सोनिया मुझसे गले लगी थी तो तब उसकी चूची मेरे सीने से सटी हुई थी, तो मैंने महसूस किया की सोनिया एकदम माल बन गई है, उसकी चूची एकदम टाईट और बड़ी-बड़ी लग रही थी.

अब मेरा तो लंड खड़ा होने लगा था फिर मैंने जल्दी से हॉस्टल से सोनिया का बैग लेकर कार में रखा और हॉस्टल वार्डन से इज़ाज़त लेकर हम दोनों वापस घर की तरफ निकल गये. उस दिन सोनिया ने फुल स्कर्ट और हाफ टॉप पहना था, जिस कारण से वो गजब की सुंदर लग रही थी. सोनिया की चूची तो उसके टॉप में दबी थी, जिस कारण वो एकदम टाईट लग रही थी.

अब अभी हम लोग 50 किलोमीटर ही चले थे कि रोड़ पर जाम लगा हुआ था. फिर मैंने जाकर पूछा कि ये जाम क्यों लगा है? तो वहाँ के लोगों ने बताया कि आगे एक ट्रॅक और बस में टक्कर हो गई है और रोड़ जाम हो गया है, ये रास्ता करीब 4-5 घंटे बाद ही खुलेगा. तो मैंने सोचा कि लगता है आज रात यही कहीं गुजारनी होगी.

फिर मैंने जाकर ये बात सोनिया को बताई और फोन पर मम्मी, पापा को भी बता दिया. तो उन्होंने कहा कि आज वही पर कहीं अगर होटल मिलता है तो रुक जाओं, वैसे भी काफ़ी रात हो गई है और कल सुबह वहाँ से चल देना.

मैंने कहा कि ठीक है और फिर मैंने कार वापस मोड़कर वहीं के पास के शहर में होटल ढूंढने लगा. उस समय रात के करीब 9 बजे थे तो जल्द ही हमें एक होटल दिखा.

अब हमें रुकना था इसलिए कैसा भी होटल चलता. फिर मैंने वहाँ जाकर कमरा के लिए पूछा तो हमें एक कमरा मिल गया, वैसे वहाँ लड़कियों के साथ जाने की मनाही थी, लेकिन जब मैंने कहा कि वो मेरी बहन है, तो उन्होंने कुछ नहीं कहा और फिर में कार से बैग उतारकर और सोनिया के साथ होटल के कमरा में चला गया.

मैंने सोनिया से कहा कि तुम फ्रेश हो लो, तब तक में कुछ खाने के लिए देखता हूँ.

फिर होटल में जाकर मैंने खाने के लिए बोला, लेकिन छोटा होटल होने के कारण उन्होंने कहा कि यहाँ खाना नहीं मिलता है इसलिए में मार्केट में खाना लेने चला गया.

मैंने मार्केट से कुछ खाना लिया और अपने लिए एक वाईन की बोतल ले ली और साथ ही साथ एक लिम्का की बोतल ले ली, क्योंकि में बिना कोल्डड्रिंक के वाईन नहीं पीता था.

मैंने कमरे के बाहर आकर दरवाज़ा खुलवाया तो मैंने देखा कि सोनिया फ्रेश हो चुकी थी और बाथ लेने के कारण उसके बाल गीले थे और उसने स्लीवलेस एकदम पतली सी नाइटी पहनी थी, जिससे उसकी पेंटी और ब्रा हल्के-हल्के दिख रहे थे.

मैंने जैसे ही उसे देखा तो मेरा लंड खड़ा होने लगा. अब में सोचने लगा था कि यार मेरी बहन मेरी गर्लफ्रेंड क्यों नहीं है? तो तभी मुझे एक आइडिया आया मैंने सोचा कि क्यों ना आज की रात अपने लंड की प्यास सोनिया से बुझाई जाए? फिर में टेबल पर खाना रखकर फ्रेश होने चला गया और वापस लौटकर खाना खाने बैठ गया.

अब मैंने सोनिया को नहीं बताया था कि में वाईन भी लाया हूँ और में कभी-कभी वाईन भी पीता हूँ इसलिए मैंने चुपके से बाहर जाकर वाईन का एक पैग बनाकर पी लिया और भीतर आ गया. फिर हम दोनों खाना खाने लगे, तो इसी बीच मैंने सोनिया से पानी लाने को कहा, तो मैंने तुरंत उसकी कोल्डड्रिंक में एक पैग डाल दिया.

सोनिया पानी लेकर आ गई और हम लोग खाना खाने लगे. फिर जब सोनिया ने कोल्डड्रिंक पी तो उसे शक हुआ, लेकिन उसने मुझसे बोला कि भैया ये कुछ अजीब लग रही है, तो मैंने उससे बोला कि हाँ शायद पुरानी होने के कारण ऐसा लग रहा है. फिर हम लोग खाना खाने लगे और खाना खाने के बाद मैंने एक पैग और ले लिया, अब तब तक मेरा मूड बन गया था फिर जब में कमरे में वापस आया तो मैंने देखा कि सोनिया पर भी वाईन का असर हो रहा था और वो लड़खड़ा रही थी.

फिर उसने मुझसे बोला कि उसका सिर घूम रहा है, तो मैंने कहा कि शायद थकने के कारण ऐसा लग रहा होगा, तुम बेड पर लेट जाओ और लेटकर बात करो. फिर सोनिया बेड पर लेट गई और जैसे ही सोनिया बेड पर लेटी तो उसकी नाइटी सरककर उसकी जाँघ तक आ गई. अब उसे तो नशे के कारण कुछ पता ही नहीं चल रहा था. फिर मैंने जैसे ही उसे देखा तो मुझ पर मदहोशी छाने लगी और में उसकी गोरी-गोरी टांगो को देखने लगा और अपने एक हाथ से अपने लंड को मेरी पैंट के ऊपर से रगड़ने लगा, तो इस पर सोनिया ने कहा कि क्या देख रहे हो भैया?

मैंने कहा कि सोनिया एक बात कहूँ बुरा तो नहीं मनोगी. तो उसने कहा कि नहीं, तो मैंने कहा कि तुम आज गजब की सुंदर लग रही हो. फिर इस पर उसने खुश होकर और शरमाते हुए कहा कि क्या भैया आप भी ना, मुझे छेड़ते रहते है? और बोली कि में कहाँ ज़्यादा सुंदर हूँ? ज़्यादा सुंदर तो नमिता दीदी है.

फिर में उसके पास गया और उसकी टांगो को पकड़कर सहलाते हुआ कहा कि देखो तो तुम कितनी सुंदर हो और उसके हाथों को भी दिखाने लगा. फिर मैंने उससे पूछा कि तुम्हारा सिर चकराना बंद हुआ या नहीं?

उसने कहा कि नहीं. फिर मैंने कहा कि तुम कोल्डड्रिंक पी लो शायद तुम ठीक हो जाओ. तो मैंने कोल्डड्रिंक लाकर उससे दे दी, लेकिन देने से पहले मैंने आखरी पैग उसमें डाल दिया. फिर सोनिया ने कोल्डड्रिंक समझकर और हल्के नशे में होने के कारण पूरी की पूरी पी ली. अब उसे पूरी तरह से नशा आने लगा था फिर मैंने टी.वी चालू कर दिया और स्टार मूवी लगा दी और फिर में सोनिया से बात करने लगा. अब मेरा भी पूरा मूड बन गया था.

अब हम दोनों लेटे हुए थे और बात करने के साथ-साथ टी.वी देख रहे थे. फिर मैंने देखा कि टी.वी पर एक सीन आ रहा है और उसमें लड़का लड़की को किस कर रहा है, तो मैंने देखा कि सोनिया उस सीन को बड़ी ध्यान से देख रही है. फिर मैंने सोनिया से पूछा कि सोनिया सही-सही बताना क्या तुम्हारे कोई बॉयफ्रेंड है? या तुम किसी को पसंद करती हो? तो उसने कहा कि नहीं भैया, अब मुझसे बर्दाशत नहीं हो रहा था.

फिर मैंने सोचा कि अब मुझे कुछ करना चाहिए, क्योंकि सोनिया अब फुल मूड में आ गई थी, लेकिन में अचानक कुछ कर नहीं सकता था और उसे पहले जोश में लाना था इसलिए मुझे एक आइडिया आया. फिर मैंने उससे पूछा कि सोनिया तुम्हारी बॉडी पर कहाँ-कहाँ तिल है? तो उसने बताया कि बहुत जगह है.

मैंने भी बोला कि मुझे भी बहुत जगह है और फिर में उसे तिल दिखाने लगा फिर मैंने पहले अपनी शर्ट खोली और मेरी पीठ का तिल दिखाया और फिर में अपनी पैंट खोलकर टावल पर आ गया और अपनी जाँघो का तिल दिखाने लगा, चूँकि अब सोनिया पूरे नशे में थी इसलिए वो अलग तरह से बर्ताव कर रही थी. अब वो मुझे देखे जा रही थी और हंस रही थी फिर मैंने कहा कि तुम भी तो दिखाओ, तो उसने अपने हाथों का तिल दिखाया.

में बोला कि और दिखाओ? तो उसने बोला कि और तिल मेरी जाँघ पर है. तो में झट से बोला कि तुम लेटी रहो, में देख लूँगा और फिर मैंने उसकी नाइटी को धीरे-धीरे उसकी जाँघो तक उठा दिया और उसकी नाइटी उठाते समय में उसके पैर भी सहला रहा था तो मैंने देखा कि मेरे ऐसा करने से वो एकदम सिहर रही थी और अपनी आँखे बंद करके मजा ले रही थी.

फिर मैंने उसकी नाइटी पूरी कमर तक उठा दी तो मैंने देखा कि उसने सफ़ेद कलर की पेंटी पहन रखी है. अब में अपने आपे से बाहर हो रहा था, तो में तुरंत सोनिया से बोला कि सोनिया तुम बहुत सुंदर हो, क्या में तुम्हें किस कर लूँ?

इस पर वो कुछ नहीं बोली और सिर्फ़ मुझे देखती रही. फिर मैंने तुरंत उसके पैरो को चूमना शुरू कर दिया और उसके पैर सहलाने लगा. अब इधर सोनिया आधे नशे में थी और मुझे नहीं-नहीं कहकर रोक रही थी और आअहह, आअहह, आहह की आवाजे भी निकाल रही थी.

अब नशे के कारण वो सिर्फ़ अपने मुँह से बोल रही थी, लेकिन उसके हाथ उसका साथ नहीं दे पा रहे थे, जिससे वो मुझे रोक सकती थी. फिर करीब 5 मिनट तक उसकी जाँघो को चूमने के बाद मैंने धीरे से अपना एक हाथ उसकी पेंटी में डाल दिया और उसकी चूत को सहलाने लगा तो मैंने महसूस किया कि मेरी रानी की चूत काफ़ी टाईट और एकदम फूली हुई थी.

फिर थोड़ी देर के बाद मैंने देखा कि अब सोनिया पूरी तरह से मदहोश हो चुकी थी और उसके मुँह से ससीई, ससीई, ससीई की आवाजे निकल रही थी फिर मैंने सहलाते-सहलाते अपनी एक उंगली उसकी चूत में घुसा दी तो मैंने महसूस किया कि उसकी चूत काफ़ी टाईट है, लेकिन फिर भी में अपनी एक ऊँगली अंदर बाहर करने लगा.

थोड़ी देर तक ऐसा करने के बाद में सोनिया के सिर के पास गया और उसके होंठो को चूमने और चूसने लगा. अब वो भी पूरी गर्म हो गई थी, अब वो भी अपने दोनों हाथों से मेरे सिर को पकड़कर मेरे होंठो को चूस रही थी और बोल रही थी कि आह्ह भैया सीईइ सीयी. फिर मैंने अपने एक हाथ से उसकी कसी हुई चूची को मसलना शुरू किया. उसकी चूची बहुत ही टाईट थी, तो कभी-कभी में उसकी चूची को भी नाइटी के ऊपर से चूस भी रहा था.

फिर इसी तरह से ये पूरा खेल करीब 10 मिनट तक चलता रहा और फिर मैंने सोनिया की नाइटी को खींचकर उसके मखमली बदन से अलग कर दिया. अब मेरी प्यारी कुंवारी बहन एकदम नंगी मेरे सामने पेंटी और ब्रा में थी, क्या बताऊँ दोस्तों वो एकदम हुस्न की देवी लग रही थी? अब में अपने आपको ख़ुशनसीब मान रहा था कि आज में इस कची कली की सील पैक चूत को चोदने वाला था.

फिर मैंने तुरंत उसकी ब्रा और पेंटी को खोल दिया. अब में तो पहले से ही टावल में ही था और ये सब करने के कारण मेरा लंड एकदम टाईट हो गया था तो मैंने फिर से सोनिया की जाँघो को चूमना शुरु कर दिया. अब में चूम भी रहा था और उसकी जाँघो को और गांड को दबा रहा था. अब इधर सोनिया आआऔचह, आआऔचह, आआऔच, उउफफफ्फ, उफफफ्फ की आवाजे निकाल रही थी.

फिर में चूमते-चूमते उसकी चूत तक पहुँचा तो मैंने देखा कि क्या प्यारी चूत है मेरी बहन की? एकदम टाईट लग रही थी और उसकी चूत पर हल्के-हल्के भूरे कलर के बाल थे, तो में तुरंत उसकी दोनों टांगो को फैलाकर उसकी चूत को चाटने लगा. अब ये करते ही सोनिया पूरे जोश में आ गई थी और अपना सिर पकड़कर अफ, अफ, अफ, अफ किए जा रही थी.

मैंने करीब 5 मिनट तक उसकी चूत को अच्छी तरह से चूसा और अपनी एक उंगली से उसकी चुदाई की फिर में उसके पेट को चूमता हुआ उसकी चूची तक पहुँचा और उसे भी चूसने और दबाने लगा. अब इधर सोनिया एकदम अपनी आँखे बंद करके मजा ले रही थी. अब मेरी प्यारी बहन नंगी बेड पर लेटी हुई थी और क्या लग रही थी? जैसे की कोई अप्सरा नंगी सोई हो.

अब इतना सब करने के बाद मुझसे रहा नहीं गया और अब में भी अपने पूरे जोश में आ गया था और अब मेरा 9 इंच का लंड एकदम टाईट हो गया था. फिर में उठा और सोनिया के दोनों पैरो को फैलाकर उसकी चूत को चौड़ा किया और अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर रखा और हल्का सा दबाव डाला, लेकिन ये क्या? मेरा लंड उसकी छोटी सी चूत में घुस नहीं पा रहा था तो मैंने फिर से थोड़ा दबाव डाला, लेकिन वो नहीं जा रहा था.

मैंने तुरंत थोड़ा झुककर उसकी चूत को चाटा और अपने लंड पर थूक लगाया और फिर से अपने लंड को उसकी चूत के मुँह पर फिट करके हल्का सा ज़ोर दिया, जिससे मेरा सुपाड़ा उसकी चूत में घुस गया और मेरा सुपाड़ा घुसते ही सोनिया ने उछलकर कहा कि हाईईईईईई मम्मी हाईईईईई बहुत दर्द हो रहा है, निकालो भैया, भैया बहुत दर्द हो रहा है. फिर मैंने कहा कि मेरी रानी अभी थोड़ी देर में मजा आएगा. फिर मैंने उसकी चूचीयों को दबाना स्टार्ट किया और सोनिया पर लेटकर उसके होंठो को चूसने लगा, तो थोड़ी देर के बाद मैंने देखा कि वो भी अब अच्छा महसूस कर रही थी और मेरे सिर को पकड़कर मेरे होंठो को चूसे जा रही है.

फिर इस पर में भी पूरे जोश में आ गया और और मैंने अपने लंड को थोड़ा सा और अंदर किया तो इस बार मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुस गया, तो मैंने देखा कि वो मुझे ज़ोर-ज़ोर से किस किए जा रही है और अपने दोनों हाथों से बेड को पकड़कर मसल रही है.

अब में समझ गया था कि मेरी सोनिया रानी अब पूरे मज़े ले रही है. अब उसके मुँह से सीयी, सीयी, सीयी, अया, सीयी, अया, सीयी, अया की आवाजे आ रही थी. अब में अपने दोनों हाथों से सोनिया की चूचीयों को मसल रहा था और मेरे लंड को उसकी चूत में अंदर बाहर कर रहा था.

फिर इस बार करीब ये सब 10 मिनट तक चलता रहा और फिर मैंने अपना पूरा लंड जो कि 9 इंच का है सोनिया रानी की चूत में घुसाने की सोची, लेकिन मैंने सोचा कि पूरा घुसाने पर ये ज़ोर से चिल्ला बैठेगी, क्योंकि सोनिया की चूत एकदम टाईट थी और वो पहली बार चुदवा रही थी इसलिए मैंने अपने होंठो को उसके होंठो से कसकर दबाया और उसकी कमर को पकड़कर ज़ोर से एक धक्का मारा तो मेरा पूरा 9 इंच लंबा लंड सोनिया मेरी प्यारी बहन की चूत में चला गया.

अब मेरे लंड के घुसते ही सोनिया की आँखें एकदम दर्द से बड़ी हो गई थी और उसकी आँखों से आँसू आने लगे थे और वो अपने बदन को मुझसे छुड़ाने लगी थी और अपने हाथों से बेड को खींचने लगी थी, लेकिन मुझे तो पूरा जोश आ गया था तो मैंने गपागप उसे चोदना शुरू कर दिया और फिर करीब 10 मिनट तक चोदने के बाद मुझे लगा कि मेरा पानी गिरने वाला है तो इस कारण मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकालकर अपना पूरा पानी उसकी चूत के बालों पर गिरा दिया.

मैंने देखा कि सोनिया बेहोश हो गई थी तो मैंने देखा कि शायद सोनिया की चूत फट गई थी और इस कारण उसकी चूत से खून आने लग रहा था और सफ़ेद सफ़ेद पानी जैसा रस उसकी चूत से बाहर गिर रहा था. फिर मैंने तुरंत उसे कपड़े से साफ किया, ताकि सोनिया ये देखकर डर ना जाए और अब में भी ये सब देखकर डर गया था कि कहीं सोनिया को कुछ हो ना जाए.

फिर मैंने तुरंत उसकी आँखों पर पानी डाला तो वो होश में आ गई और मुझे अपने हाथों से मारते हुए बोली कि क्या भैया आपको मेरी थोड़ी भी परवाह नहीं है? में दर्द से कराह रही थी और आप अपनी ही धुन में मजे किए जा रहे थे.

मैंने तुरंत उससे सॉरी बोला और उसे किस करने लगा और किस करते-करते पूछा कि लेकिन ये बताओ सोनिया कि मजा आया ना? तो उसने हाँ में अपनी गर्दन हिला दी. अब मेरे किस करने से वो सब भूलकर मुझे फिर से किस करने लगी थी और मुझे स्मूच करने लगी थी और मैंने फिर से उसकी टाईट चूची को दबाना और उसकी चूत को सहलाना शुरु कर दिया था.

थोड़ी ही देर में सोनिया पूरी जोश में आ गई और इस बार मैंने उसे अपना लंड पकड़ाकर उसे आगे पीछे करने को कहा. फिर पहले तो उसने मना किया, लेकिन मेरे बहुत कहने पर वो मेरे लंड को आगे पीछे करने लगी.

अब उसके नाज़ुक हाथों के स्पर्श से मेरा लंड एकदम टाईट हो गया था तो मैंने सोनिया से कहा कि सोनिया इस बार में तुम्हें उल्टा लेटाकर चोदूंगा, मेरा मतलब कुतिया के जैसे. तो उसने मना कर दिया और कहा कि नहीं भैया तुम बहुत बेरहमी से करते हो, में नहीं करने दूँगी, तुम सिर्फ़ मुझे चूमो और उसने ये भी बोला कि अभी तक मेरी चूत दर्द कर रही है.

मैंने उसे बहुत मनाया और बोला कि मेरी प्यारी रानी इस बार धीरे-धीरे चोदूंगा, तो मेरे बहुत कहने पर वो मान गई और वो उठकर कुतिया के जैसी हो गई, तो मैंने अपना सुपाड़ा उसकी चूत में घुसा दिया. अब मेरे लंड के घुसते ही उसके मुँह से आ आ आ आ आह की आवाज़ निकल गई थी.

में थोड़ा सा झुककर उसकी टाईट चूचीयों को मसलने लगा और थोड़ा और धक्का दिया, तो इस बार मेरा लंड आधा उसकी चूत में चला गया, तो सोनिया दर्द से तड़प उठी और बोली कि भैया बहुत दर्द हो रहा है. फिर मैंने कहा कि घबराओ नहीं, थोड़ी देर में मजा आने लगेगा.

फिर करीब 10 मिनट तक हम लोग चुदाई करते रहे. अब में लगातार धक्के मार रहा और उसकी मखमली गांड को दबा रहा था. अब इधर सोनिया के मुँह से आआआ, आह, हफ, अफ, अफ, उफ़फ्फ, अफ, अया, आहह, आह की आवाजें आ रही थी.

मैंने सोनिया की कमर को पकड़ा और ज़ोर से एक धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड उसकी टाईट चूत में जड़ तक घुस गया. अब मेरा पूरा लंड उसकी चूत में जड़ तक घुस गया था, जिससे उसके मुँह से ज़ोर से आवाज निकलने वाली थी, लेकिन मैंने अपने हाथ से उसके मुँह को दबा दिया और फिर से अपने लंड को उसकी चूत में आगे पीछे करने लगा.

मैंने देखा कि उसकी चूत से क्रीम टाईप की कुछ चीज निकल रही थी, शायद सोनिया का पानी निकल गया था, लेकिन में अभी भी जोश में था और अब में उसे अपने पूरे जोश में चोद रहा था और उसकी चूची दबा रहा था.

फिर थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि अब सोनिया को भी मजा आने लगा था और मैंने उससे पूछा कि अब कैसा लग रहा है सोनिया? तो उसने सिसकते हुए कहा कि अहह मजा आ रहा है भैया और वो जोश से आआहह, ऊऊहह किए जा रही थी.

अब में एकदम पूरी रफ़्तार में उसे चोदने लगा था. अब मेरे चोदने से कमरा में छप-छप की आवाजे गूँज रही थी फिर करीब 10 मिनट तक चुदाई करने के बाद अचानक से मुझे लगा कि मेरा पानी गिरने वाला है तो मैंने अपना पानी सोनिया की चूत से बाहर निकालकर उसकी गांड पर ही गिरा दिया. अब में और सोनिया दोनों थकने के कारण एक दूसरे पर ही लेट गये थे. अब में सोनिया के गालों पर किस कर रहा था, ताकि उसे कुछ अच्छा लगे.

फिर सोनिया ने कहा कि भैया क्या ये सब ठीक है? और ये करने से मुझे कुछ होगा तो नहीं ना? तो में बोला कि मेरी प्यारी बहन डर मत, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा और हम दोनों इसी तरह से हमेशा मजे लेते रहेंगे. फिर उसने हाँ में अपना सिर हिला दिया.

फिर कुछ देर के बाद मैंने उठकर पूरा बेड साफ किया और फिर हम दोनों ने बाथ लिया और फिर हम लोग नंगे ही आकर बेड पर सो गये. अब सोनिया मुझसे चिपककर सो गई थी और बोलने लगी कि भैया जो हम लोगों ने किया, क्या वो सही था? किसी को पता चलेगा तो क्या कहेगा? तो मैंने कहा कि मेरी प्यारी बहन तुम्हें मजा आया ना. तो वो बोली कि हाँ?

मैंने कहा फिर क्या डरना? हम किसी को कुछ नहीं बताएँगे. फिर उसने भी हाँ कहा और फिर मैंने उसे आई लव यू मेरी जान कहकर सो जाने को कहा. फिर में सुबह करीब 8 बजे उठा तो मैंने देखा कि मेरी प्यारी बहन नंगी सोई हुई थी, तो मैंने उसे एक किस किया और उसे उठाया, तो उसने भी उठते ही मुझे अपनी बाहों में लेकर किस किया. में फिर से जोश में आ गया और मैंने फिर से उसकी वही पर एक बार फिर से जोरदार चुदाई कर दी और फिर हम लोग बाथ लेकर अपने घर के लिए निकल पड़े.

Updated: June 2, 2017 — 6:15 am
Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


student ne chodabhabhi or devar ki chudai storychoot me khujlichachi ki sexy storypapa ne ki chudaibhabi mast haisexy aantiki chudaimaa beta ki sex storyland chut ki khaniyahindi gandi chudai ki kahanilugai chudaisuhagrat chutschool teacher ki chutchachi ki sex kahanigand mari gand marihinde sex khanesuhagrat sexxsex story hindi onlychoot auntybahan ne chodaantarvasna mosiadult hindi sexsexy chetnokarbeta sa chudaichudai with devarsex story bhabi ko chodajeth ji ne chodamoti aunty chudaisafed chootindian sex stsuhagrat and sexjangal sexsecy storybhabhi ki gand chudaisuhagrat ki chudai ki kahani hindi metuition teacher ki chudaigand mari maa kimammy ki chudai ki kahaniwww antervsna commaa ki chudai ki kahanimammi ki chudaipapa ne aunty ko chodachachi ki chudai storygaand badisexy story auntysheela sexychachi ki boor ki chudaiantarvasana hindi storihindi adult storehot bhabhi ki chudai storybadi bhabhi ki chutschool girl sex story hindiwww chudai ki kahani hindi me comchudai lambe lund sebhabhi ki gand mari sex storyhindi chudai bhabhi kikamwali combhabhi moti gandchodai kahani hindi meek sath do ko chodajeeja sali sexpapa ne beti ki gand marisavita bhabi ki chodaibehan ka doodh piyadesi boy auntykahani maa ki chudaihot gay sex story in hindibhabhi devar ki sexbhabhi ki chut mera lundbhanji ko chodaland and chut ki kahanicousin ki chudai ki kahanisexi khaniya hindi meaurat ki gaand marihindi sex stokahani behan kidevar chudaibehan se sexmom ki chudaibudhi naukrani ki chudaidesi story chudaididi ki suhagratlund chudai kahanighar me chudai