Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

अब्बू का बेलगाम लण्ड-5


desi sex stories मैं दौड़ी दौड़ी आई और बोली अम्मी देख तेरी बहन का भोसड़ा बड़ा हरामी हो गया है बहन चोद ? आज पहली

बार मेरा देवर आया है । उसे देख कर तेरी बहन के मुंह से लार टपकने लगी है अम्मी ? चुप चाप मुझे अंदर ले गयी और बोली बेटी खुशबू तूने अपने देवर का लण्ड पकड़ा है न ? मैंने कहा हां पकड़ा है खाला तो क्या हुआ ? वह बोली नहीं मैं ऐसे ही पूंछ रही हूँ अब तूने लण्ड पकड़ा है तो चुदवाया भी होगा ? मैंने कहा वो तो ज़ाहिर है जब किसी जवान लड़की के हाथ में लण्ड होगा तो वह भोसड़ी वाली जरूर चुदवायेगी ? वह बोली तो फिर मेरा भी भोसड़ा चुदवा दे न खशबू ? तेरे देवर को देख कर मेरे भोसड़ा में आग लग गयी है। तब से मैं उसके लण्ड के बारे में सोंच रही हूँ। उसका लण्ड पकड़ने के लिए बेताब हो रही हूँ मैं खुशबू ? मैं बोली खाला थोड़ा सब्र करो। मैं वादा करती हूँ की आज रात को मैं अपने देवर का लण्ड तुझे पकड़ा दूँगी ? तब तक तू अपनी झांटें वगैरह बना कर अपना भोसड़ा बिलकुल चिकना कर ले क्योंकि उसे चूत चाटने की आदत है।

तो ऐसी है तेरी बहन और तेरी बहन की बुर, अम्मी ? कुछ भी हो आज मैं तेरी बुर चोदी बहन की तमन्ना जरूर पूरी कर दूँगी। ठोंक दूँगी अपने देवर का लण्ड उसके भोसड़ा में ? अम्मी ने कहा हां खुशबू तू ठीक कह रही है, मैं जानती हूँ अपनी बहन ताहिरा को जब तक वह अपनी बुर में लण्ड ठोंकवा नहीं लेती तब तक वह चैन से नहीं बैठेगी ? उसने तो मेरी सुहागरात के दूसरे ही दिन मेरे शौहर का लण्ड पकड़ लिया था। मैंने कहा अरे अम्मी, तो तूने कुछ नहीं किया और पकड़ा दिया अपने मियाँ का लण्ड ? वह बोली नहीं खुशबू ऐसा नहीं है ? मैं क्या मादर चोद उससे कम हूँ ? उसकी सुहागरात में मैंने भी उसके मियाँ का लण्ड पकड़ कर चुदवा लिया था। उसका लौड़ा मुझे पसंद आया तो मैं आज भी उससे चुदवाती हूँ।
रात को मैंने जब अपने देवर का लण्ड खाला को पकड़ाया तो वह चिल्ला पड़ी – बाप रे इतना मोटा लण्ड, बहन चोद ? ये तो साला एक ही दिन में चूत का बना देगा भोसड़ा ? मैं बोली हां खाला यह सच है फिर भी कई लड़कियां इससे अपनी चूत का भोसड़ा बनवाने आती हैं । इतना मोटा लण्ड पकड़ कर कहती हैं की मुझे इतना चोदो की मेरी चूत बन जाए भोसड़ा ? मैंने बात करते करते खाला को नंगी कर दिया और मैं तो पहले से ही कपड़े खोल कर बैठी थी। मैंने कहा खाला इसका लौड़ा छोटा है पर मोटा है इसलिए मुझे पसंद है। इसकी लम्बाई ६” से ७” के बीच में रहती है ? मैं तो खूब चुदवाती हूँ इससे अब तू भी ले ले पूरा मज़ा ? खाला लौड़ा चूसने लगी तो वह खाला की बुर चाटने लगा। इस तरह मैंने रात में ३ बार चुदवाया खाला का भोसड़ा ? मस्त हो गयी खाला और खाला का भोसड़ा ? जाते जाते मैंने उससे कहा यार अगली बार आना तो मेरी माँ का भोसड़ा चोद कर जाना ? उसे भी तेरे लण्ड का सुख मिल जाएगा और तुझे भी मेरी माँ चोदने का मज़ा जायेगा ?
फिर मैंने कहा – अम्मी, तू सही कह रही थी की ? तेरी बहन की बुर बड़े मोटे मोटे लण्ड खाती है।
अम्मी बोली :- उस बुर चोदी का बस चले तो घोड़े गधे का भी लण्ड पेल ले अपनी चूत में ?
एक दिन मैंने फोन जैसे ही उठाया वैसे ही अम्मी मेरे ऊपर बरस पड़ीं बोली कहाँ चली गयी है तू बुर चोदी खुशबू सवेरे सवेरे अपनी गांड मराने ? मैं यहाँ चाय पर तेरा इंतज़ार कर रही हूँ और तेरा कहीं पता नहीं है, बहन चोद ? मैंने कहा अम्मी तुम चाय पी लो मैं अभी थोड़ी देर में आऊँगी ? वह बोली ठीक है पर तू है कहाँ और क्या कर रही है माँ की लौड़ी ? मैंने कहा मैं यहाँ आरिफ अंकल के घर पर हूँ उसके लण्ड पर बैठी हूँ, अम्मी ? वह बोली भोसड़ी की, तू बुर चोदी हर रोज़ किसी न किसी के लण्ड पर बैठने चली जाती है। कल तू ज़फर के लण्ड पर बैठी थी, परसों तू बिना मुझे बताये माइकल के लण्ड पर बैठ गयी थी और आज आरिफ के लण्ड पर बैठी है। तू बहन चोद किसी के भी लण्ड पर बैठ मुझे कोई ऐतराज़ नहीं है लेकिन बता तो दिया कर ? वैसे यहाँ मैं भी तेरे ससुर के लण्ड पर बैठी हूँ।
मैं बोली :- तू बड़ी मादर चोद है अम्मी ? मेरी सुसराल में भी सेंध लगा दी तूने भोसड़ी वाली ? आज ससुर का लण्ड घुसा रही है अपनी बुर में कल तो तू मेरे जेठ का लण्ड, मेरे देवर का लण्ड, मेरे नंदोई का लण्ड भी पेल लेगी ? सबसे चुदवाना शुरू कर देगी तू ? सबके लण्ड खायेगा तेरा ये बहन चोद भोसड़ा ? अम्मी बोली :-
तो क्या हुआ ? ये भोसड़ा है किसलिए ? भोसड़ा लण्ड नहीं खायेगा तो क्या घास खायेगा ?

दोस्तों, मैं हूँ खुशबू। मेरी शादी अभी एक साल पहले ही हुई है।मेरी खाला ताहिरा बुर चोदी बड़ी चुदक्कड़ है और उससे ज्यादा चुदक्कड़ है मेरी अम्मी मिसेज फ़रज़ाना ? मेरी खाला और मेरी अम्मी दोनों भोसड़ी वाली हंमेशा चुदाने के चक्कर में घूमा करती है।
“जैसे बिल्ली हमेशा किसी चूहे की तलास में रहती है
वैसे इन दोनों का भोसड़ा बहन चोद लण्ड की तलास में रहता है
जब भी कोई लण्ड दिख जाता है तो इनका भोसड़ा उसे फ़ौरन दबोच लेता है”
मैं इधर आरिफ अंकल के लण्ड पर बैठी थी, उधर मेरी अम्मी मेरे ससुर के लण्ड पर बैठी थी। इधर मैं आरिफ का लण्ड चूसने लगी उधर अम्मी मेरे ससुर का लण्ड ? इधर मैं चुदवाने लगी, उधर मेरी अम्मी ? इधर आरिफ मेरी बुर चोदने लगा उधर मेरा ससुर मेरी माँ का भोसड़ा चोदने लगा । इधर मैं भोसड़ी वाली चुद रही थी उधर मेरी माँ भोसड़ी वाली ? मज़ा दोनों तरफ आ रहा था। लण्ड दोनों तरफ के मस्त थे। इधर मेरी चूत लण्ड खा रही थी उधर मेरी माँ की चूत लण्ड खा रही थी। इधर मैंने आरिफ का लण्ड अपनी चूत में भून कर निकाला उधर मेरी माँ ने मेरे ससुर का लण्ड अपनी चूत में भून कर निकाला ? चुदाई दो अलग अलग जगहों पर हो रही थी लेकिन बिलकुल एक जैसी ? मैं दूर बैठी हुई अपनी माँ का भोसड़ा चुदा रही थी और मेरी माँ दूर बैठी हुई अपनी बेटी की बुर चुदा रही थी ? इस तरह हम दोनों ने चुदाई का मज़ा खूब लिया।
एक दिन ताहिरा खाला मुझे अपनी घर ले गयीं। मुझे अंदर कमरे में बैठा दिया और बातें करने लगी बोली खुशबू थोड़ा व्हिस्की पियोगी मैं बोली हां खाला मैं तो खूब पीती हूँ दारू ? बड़ा मज़ा आता है मुझे क्योंकि दारू और चोदा चोदी का चोली दामन का साथ है। दारू पीकर चुदवाने में बड़ा मज़ा आता है खाला ? वह बोली हां यार तू बिलकुल ठीक कह रही है। मैं भी यही करती हूँ और मेरी दीदी भी। हम दोनों दारू पी ही रही थी इतने में खाला की बेटी शमा आ गयी। वह मुहे देख कर बोली अरे खुशबू दीदी तुम यहाँ ? मुझे नहीं मालूम था की तुम आ रही हो ? मैंने कहा अरे यार तेरी अम्मी मुझे यहाँ ले आयीं। बड़ा प्यार करती है न मुझसे ? तब तक खाला बोली अरी शमा तू यहीं घर पे है ? मैं समझी की तू बहन चोद बाहर गयी है। चल बैठ और तू भी हमारे साथ दारू पी। वह बोली नहीं अम्मी मैं यही घर पर ही थी। खाला पूंछ बैठी तू :-
तू ऊपर क्या कर रही थी ?
मैं ऊपर हिला रही थी ?
हिला रही थी ? क्या मतलब ? अपनी गांड हिला रही थी तू ? चूंचियां रही थी तू अपनी बुर चोदी ?
अरी मेरी भोसड़ी की अम्मी, मैं अपनी गांड नहीं, लण्ड हिला रही थी लण्ड ? हां हां अपने दोस्तों के लण्ड ?
हाय दईया, तो कितने दोस्तों के लण्ड हिला रही थी तू ? तू तो बहन चोद बड़ी हरामजादी हो गयी है।
तीन दोस्त है अम्मी और मैं तीनो के लण्ड हिला रही थी।
हाय रब्बा, हाथ तो दो ही है ? तीन लण्ड कैसे हिला रही थी तू भोसड़ी वाली ? चूतिया बना रही है मुझे ?
नहीं, चूतिया नहीं बना रही हूँ मैं । यह सच है, अम्मी । देख दो लण्ड दोनो हाथ से हिला रही थी। एक लण्ड कभी अपने मुंह डाल कर, कभी चूत में और कभी अपनी गांड में डाल कर हिला रही थी।
अच्छा अब तू मुझे और चूतिया न बना ? तो उन तीनो को यहाँ ले आ ? मैं देखती हूँ भोसड़ी वालों के कैसे हैं लण्ड ?

मैं उनकी बातें सुन सुन कर मुस्करा भी रही थी और मज़ा भी ले रही थी। खाला ने मुझे भी शमा के साथ जाने का इशारा किया। मैं भी उसके साथ जाने लगी। वह रास्ते में बोली दीदी मेरी अम्मी मादर चोद बड़ी चालाक हैं । मेरे सारे दोस्तों से चुदवाती है अपना भोसड़ा ? मेरे सभी दोस्त मेरी माँ चोदते हैं साले। मैं जिसे भी अपने घर लाती हूँ अम्मी आकर उसका लण्ड चूसने लगती है।आज मैंने सोंचा की अम्मी घर पर नहीं हैं तो मैंने तीन दोस्त बुलवा लिया और मैं तीनो से एक साथ चुदवाने जा रही थी। अब देखों न जाने कैसे बुर चोदी अम्मी आ टपकी ? अब वो तीनो लण्ड अपने भोसड़ा में पेलेगी ?
मैंने कहा तू चिंता न कर मैं उसके सामने तेरी चूत में पेलूँगी तीनो लण्ड ? उसके भोसड़ा की माँ की चूत ? उसकी बहन की बुर ? उसकी बिटिया की गांड ? उससे तो मैं उखड़वाऊंगी अपनी झांटें ? तू देखती जा ? आज मैं तेरी माँ के सामने चोदूंगी तेरी बुर ? और दूसरी पारी में तेरे सामने चोदूंगी तेरी माँ का भोसड़ा ? वह बोली तो क्या तू नहीं चुदवायेगी दीदी ? मैंने कहा मैं भी बीच बीच में मज़ा लेती रहूंगी ? मैं जब कमरे में पहुंची तो देखा की वहां तीन लड़के बिलकुल नंगे बैठे है। उनके लण्ड बिलकुल साफ़ दिखाई पड़ रहे हैं है लेकिन कोई भी लौड़ा साला खड़ा नहीं है। शमा ने भी अपनी चुन्नी फेंक दी वह भी भोसड़ी की बिलकुल नंगी हो गयी. वह बोली दीदी ये है सफी, ये रफ़ी और ये है रज़ा तीनों मेरे दोस्त ? मैं एक एक करके तीनो लण्ड पकड़ पकड़ कर देखने लगी। वह मेरे कपडे उतारने लगी। मैं भी बहन चोद हो गयी पूरी की पूरी नंगी ?
मैंने कहा यार शमा अब नीचे चलो तेरी अम्मी इंतज़ार कर रही होंगीं ? मैंने रज़ा का लण्ड पकड़ लिया और शामो ने उन दोनों के लण्ड ? बस फिर क्या तीनो बहन चोद टन टना उठे ? हम दोनों नंगी नंगी और तीनो नंगे लण्ड पकडे पकडे खाला के सामने पहुँच गयी। हमें हमें ही वह बोली अरे वाह खुशबू बुर चोदी तू भी मेरी बेटी के रंग में ? तू भी उसी की तरह लण्ड की शौक़ीन हो गयी है ? मैंने कहा अरे भोसड़ी की खाला तुझे तो मालूम है की मैं मादर चोद लण्ड की बड़ी शौक़ीन हूँ।
लण्ड तो मेरा दिल है, लण्ड मेरी जान है, लण्ड मेरी ज़िन्दगी है खाला ?
लो ये है रज़ा और ये है रज़ा का लौड़ा ? मैंने लौड़ा खाला को पकड़ाते हुए कहा। खाला ने अपना पेटीकोट उतार कर कहा रज़ा माँ का लौड़ा तू पहले मेरा भोसड़ा चाट फिर मैं तेरा लण्ड चाटूंगी। और हां रफ़ी साले तू मेरी बिटिया की बुर चाट और सफी से कहा तू भोसड़ी के मेरी भतीजी खुशबू की बुर चाट ? तीनो लड़के हम तीनो की बुर चाटने लगे ?
इतने में मैंने घूम कर सफी का लण्ड पकड़ लिया और शमा की चूत पर रख दिया। रफ़ी से कहा अब तू मुझे चुसा लण्ड। सफी को इशारा किया तो उसने लौड़ा घुसेड़ दिया शमा की चूत में । शमा चुदवाने लगी। उधर मैंने रफ़ी का लौड़ा खाला के भोसड़ा में घुसा दिया । वह भी मस्त हो गयी और बोली हाय खुशबू बड़ा ख्याल रखती है तू मेरे भोसड़ा का ? मैंने कहा अरे खाला मेरे लिए जैसे अम्मी का भोसड़ा वैसे ही तेरा भोसड़ा ? मैं अगर अपनी माँ चुदवाती हूँ तो अपनी खाला भी चुदवाती हूँ। शमा सफी के लण्ड पर बैठी हुई चुदवा रही थी। उसका मुंह सफी की तरफ था। वह अपनी गांड उठा कर थोड़ा झुकी ही थी हालांकि उसकी चूत में लण्ड घुसा था। मैंने रज़ा के कहा अब तू शमा की गांड में पेल दे अपना लण्ड ? रज़ा भोसड़ी का पेलने लगा लण्ड तो शमा बोली हाय दईया, खुशबू तू तो मेरी बुर चुदवा ही रही है अब क्या मेरी गांड भी साथ साथ मरवा देगी ? मैंने कहा अब तू देखती जा मैं क्या क्या करती हूँ ?
शमा अपनी माँ का भोसड़ा चुदता हुआ देखने लगी और खाला अपनी बेटी की बुर चुदती हुई देखने लगी। वह

अपनी बेटी को गांड मरवाते हुए भी देखने लगी। मस्ती मुझे भी सवार थी पर उन दोनों को ज्यादा ही मस्ती आ रही थी। खाला बोली खुशबू आज चुदवाने में मुझे बहुत मज़ा आ रहा है । थोड़ी देर में मैंने लण्ड बदल दिया। रफ़ी का लण्ड खाला की बुर से निकाल कर शमा की बुर में पेल दिया और सफी का लण्ड शमा की बुर से निकाल कर खाला के भोसड़ा में घुसा दिया। लण्ड बदल गये तो दोनों भोसड़ी वाली और उछल उछल कर चुदवाने लगी। मैं उधर रज़ा का लण्ड शमा की गांड से निकाल कर अपनी गांड में घुसेड़ लिया ? मैं भी मरवाने लगी गांड ? थोड़ी देर में रज़ा का लण्ड खाला की गांड में घुसेड़ दिया मैंने ? खाला बोली खुशबू आज तू सबकी गांड मार रही है। मैंने कहा खाला और आज मैंने तेरी बेटी की माँ चोद दी ? वह हंसने लगी और बोली खुशबू किसी दिन मेरी बेटी भी तेरी माँ चोदेगी ?
इस तरह खूब गन्दी गन्दी बातें कर करके मैं इसका लण्ड उसकी बुर में, उसका लण्ड इसकी बुर में रात भर घुसाती रही। उन दोनों को खूब मज़ा आता रहा और इधर मैं भी खूब मस्ती में डूबती रही ?
दूसरे दिन सवेरे ११ बजे मैं घर वापस आयी और अम्मी से कहा – रात भर तेरी बहन का भोसड़ा चोद कर आयी हूँ, अम्मी ?
वह बोली – हाय रब्बा बड़ी मस्ती करके आयी है तू बहन की लौड़ी ? किसी दिन मेरे सामने चोदना मेरी बहन का भोसड़ा तब बताऊँगी तुझे बुर चोदी खुशबू की भोसड़ा होता क्या है ?

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


www bhabhi ki chut comsali ko nanga karke chodawww didi ko chodabhai behan kabete maa ki chudaishadi me chudaihot kamwalibete chodakanwari chootmaa ki vasnasagi chachi ki chudaihindi sexy girl storypapa ki chudai ki kahanibhabhi ki kahani hindimaa ko bete ne choda hindi storysexe story in hindichut bazarchoot mein lund dikhaobahu ki mast chudaimummy ki gandmarwadi sexy auntyhouse sex auntyfree adult sex story in hindididi ki gand mari kahanivalentine day ki chudaidesi chudai story comhindi blue storyjabardast sexchut kese chodebhabhi ki sexy chootmausi ki chudai inchhote bhai ne chodamaa ko chutchudai randisex story with friendhindi antarvasna chudaikachre wali ki chudaimom ki gandmosi ki chudai storyhindi language chudaikanya ki chudaibhabhi ki chut me mera landdesi gand ki chudainew bus sexlund ko chut me dalaantarvasna desi chudaiaunty xxx storymausi ki chut ki kahanibahen ki gand chudaiwife sex hindijungli chudaihindi ex storysex kathalubus me chudai ki kahanichudai bf ke sathmastram hindi sex storydesi chudai kiwww indian suhagrat combest indian sexhot sex story in hindichudai kahani sitefuck kahanisex story hindi latestwww new chudai storysexy gand ki chudaibhabhi ki gandi chudaichudai pictureaunty sesexy teacher ko chodadevar ne ki bhabhi ki chudaimast ladki ki chutantervasna hindi sex storibhabhi gand picgroup chudai kahanimarwadi sexxgay ki gand maricollege ki ladki ki chudaibhabhi ki behan ko chodachoda chodi hindi storybhabhi ki bahan ki chudai