Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

अब्बू का बेलगाम लण्ड-1


Click to Download this video!

indian sex stories उस दिन सायना आंटी आयी और जाते जाते बोली बेटी तस्लीम, तेरे अब्बा ने आज मुझे खूब जम कर चोदा है . इतना बेरहम और इतना बेलगाम लौड़ा मैंने आजतक नहीं देखा . चाहे कितना रोको उसे, चाहे जितना टोकों उसे उसकी सेहत पर कोई फरक नहीं पड़ता, तस्लीम . साला तूफ़ान मेल की तरह चोदता चला जाता है तेरे अब्बा का लौड़ा . तो सुना तूने भोसड़ी के अब्बा, तूने आंटी का भोसड़ा चोद चोद के क्या हाल किया है उसका . और शाम को जब उसकी बेटी नसरीन तुमसे मिलने आयी तो तूने उसकी बात सुनने के वजाय उसको अपना टन टनाता हुआ लण्ड पकड़ा दिया . पकड़ा ही नहीं दिया बल्कि उसे पटक पटक कर चूब चोदा तूने . उसकी बुर में जबरदस्ती पेल दिया मादर चोद अपना लण्ड अब्बू .

अभी उस दिन मेरे कॉलेज की मेरी टीचर मिसेज मिर्ज़ा मेम आयी थी। वह बहुत खूबसूरत है। बस तेरी लार टपकने लगी . उसकी बड़ी बड़ी चूंचियां देख कर तेरा लौड़ा साला छलाँगें लगाने लगा। तूने बात करते करते उसकी चूंचियां दबा दी बहन चोद और फिर अपनी लुंगी खोल कर उसे अपना लौड़ा दिखा दिया . अब किसी जवान औरत के सामने कोई लौड़ा खड़ा होकर टन टना रहा हो तो ज़ाहिर है की वह पकड़ ही लेगी लण्ड . उसने जैसे ही तेरा लौड़ा पकड़ा तू तो चढ़ बैठा उसके ऊपर और चोद डाली उसकी बुर . तुझे अपने लण्ड पर ज़रा भी कंट्रोल नहीं है, भोसड़ी के अब्बू . माना की तेरा लौड़ा बड़ा लंबा चौड़ा है। मोटा है सख्त है मगर इसका मतलब यह नहीं है की दुनिया की सारी लड़कियां चोदने का तुझे हक़ मिल गया . सबके भोसड़ा में अपना लण्ड घुसाने का लाइसेंस मिल गया तुझे . अरे और लोग भी हैं चोदने वाले . और भी लोग है जिनके लण्ड इतने बड़े बड़े है, हो सकता है इससे भी बड़े हों उनके लण्ड . क्या उन्हें चोदने का हक़ नहीं है . आखिर कार उनके लण्ड किसी की चूत में, किसी की बुर में या फिर किसी के भोसड़ा में घुसेंगें ही . दुनिया में एक तेरा ही लौड़ा नहीं है, मादर चोद अब्बू .

अपने लण्ड को काबू में रखो अब्बू, बड़ा बेलगाम हो गया है तेरा लण्ड . इतनी छूट न दो अपने बेटी चोद लण्ड को . नहीं तो किसी दिन घूम कर तेरी ही गांड मारने लगेगा तेरा बहन चोद लण्ड . मेरी बेबाक और खरी खरी बातें सुनकर अब्बू तिलमिला गया और उसी अंदाज़ में बोला – तू बुर चोदी तस्लीम क्या जाने की असली बात क्या है . तू उस भोसड़ी वाली सायना आंटी की बात कर रही है। वह तो आयी ही थी मुझसे अपना भोसड़ा चुदवाने . उसने कहीं से मेरे लण्ड के बारे में सुन लिया था बस उस दिन सवेरे सवेरे दौड़ती हुई आयी जब मैं तौलिया लपेट कर नहाने जा रहा था। बोली हाय फ़िरोज़ भाई जान, मैंने सुना है तेरा लौड़ा बड़ा शानदार है . ज़रा दिखाओ न मुझे अपना लण्ड . ऐसा कह कर उसने मेरी तौलिया खींच ली तो मैं मादर चोद बिलकुल नंगी हो गया। बस उसने लण्ड पकड़ लिया और दनादन्न चुम्मी लेने लगी। अब ऐसे में लौड़ा तो साला खड़ा हो ही जायेगा न . इतने में उसने अपने सारे कपडे उतार कर मेरे सामने एकदम नंगी हो गयी बोली हाय राजा चोदो मुझे . आज मैं चुदवा कर ही जाऊँगी अपना भोसड़ा . बस वह लण्ड पूरा का पूरा मुंह में भर कर चूसने लगी। मैं भी मर्द हूँ। मुझे भी जोश आ गया . बस मैंने उसे पटक पटक के चोदा बुर चोदी को . उसे भी पता चला की किसी मर्द से चुदवा रही है वो .

उसके बाद शाम को उसकी बेटी आ गयी बोली हाय अंकल मुझे मेरी अम्मी ने तेरे लण्ड के बारे में सब बता दिया है। तेरे लण्ड की तारीफ सुनकर मेरी चूत की आग भड़क उठी है। तूने मेरी माँ चोदी है, मेरी माँ का भोसड़ा चोदा है तो अब तू उसकी बिटिया की बुर चोद कर दिखा . मैं भी तो देखूं की तू बेटी चोद कितना बड़ा मर्द है . उसने फ़ौरन मेरी लुंगी में अपना हाथ घुसेड़ मेरा लण्ड पकड़ लिया . लण्ड तो साला टन टना उठा। फिर वह नंगी हो गयी और मुझे भी नंगा कर दिया। बड़ी बेशर्मी से गाली बकती हुई मेरा लण्ड पीने लगी माँ की लौड़ी नसरीन . उसकी चूत वाकई बड़ी टाईट थी। मेरा दिल आ गया और मैंने फिर चोद डाला उसकी चूत . अब बोली इसमें मेरी क्या गलती है .

अब तू अपनी मिर्ज़ा मेम की बात सुन ले। यह बात जरूर है की मैंने अब उसे उस दिन पहली बार देखा तो वह मुझे बहुत अच्छी लगी। वो तो तुमसे 3-4 साल ही बड़ी होगी। यह भी सच है की मेरा लण्ड अंदर से कुलबुलाने लगा । मुझे देख कर बोली हाय अंकल आप ही तस्लीम के अब्बू है . मैंने कहा हां मैं ही हूँ। तब वह बोली हाय अल्ला, कितने स्मार्ट है और सेक्सी है आप . मैंने ठीक ही सुना था आपके बारे में . मैंने एक बात और सुनी है आपके बारे में . मैं वह भी जानना चाहती हूँ की सही है की नहीं . मैंने कहा हां हां बताओ क्या सुना तुमने . मैं उस समय भी लुंगी पहने बैठा था। उसने मरे कान में कहा – सुना है भोसड़ी के की तेरा लण्ड मादर चोद बहुत बड़ा है मैं उसी को देखने आयी हूँ और चुदवाने आई हूँ तुमसे अपनी चूत . ऐसा यह कर उसने मेरी लुंगी में हाथ घुसेड़ा . मैंने कहा तुमको किसने बताया तब वह बोली तेरी बुर चोदी बेटी तस्लीम ने . उसने तो कॉलेज में सबको तेरे लण्ड के बारे में बता दिया है . अभी तो मैं ही आई हूँ, अभी जाने कितनी लड़कियां तेरा लण्ड पकड़ने आएँगी . तुमसे चुदवाने आएँगी . पूरे कॉलेज में तेरे लण्ड की चर्चा है समझा तू माँ का लौड़ा . तभी से मेरी चूत में आग लगी है . आज मैं बिना चुदवाये यहाँ से जाऊँगी नहीं . फिर मैं क्या करता बताओ तस्लीम बेटी . मैंने भी उसे खूब झमाझम चोदा . एक बात बता दूँ तुझे तेरी मिर्ज़ा मेम की बुर मुझे बहुत अच्छी लगी। बिलकुल तेरी खाला की बेटी की तरह है उसकी बुर .

मैं बोली :- अच्छा तो तू मेरी खाल का भोसड़ा भी चोदता है और खाला की बेटी की बुर भी चोदता है . वह बोला :- देखो तस्लीम मैं हूँ मर्द . मेरा लण्ड जो भी बड़े प्यार से पकड़ेगी मैं उसे जरूर चोदूंगा चाहे वह कोई भी हो . मैं बोली :- वैसे यह बात सही है की कॉलेज में मैंने ही सबको बताया की मेरा अब्बा का लौड़ा कैसा है . लेकिन अब्बू तूने सब बातें सही सही बताई . मुझे तेरे लण्ड पर नाज़ है अब्बू . तब तक खाला की बेटी समीना आ गयी बोली हाय तस्लीम जानती हो तेरे अब्बा का लौड़ा कितना बड़ा है . मैंने कहा भोसड़ी की तू चुपके चुपके मेरे अब्बा से चुदवाती रहती है . आज तक तूने मुझे बताया क्यों नहीं माँ की लौड़ी . वह बोली यार अभी दो बार ही चुदवाया है मैंने। और मैं तुझे बताने ही आ रही थी। जैसे तेरा अब्बा मेरी माँ का भोसड़ा चोदता है वैसे ही मेरा अब्बा तेरी माँ का भोसड़ा चोदता है। ये साले दोनों एक दूसरे की बीवी चोदते है मादर चोद . मैंने कहा यार समीना देख शादी तेरी भी हो चुकी है और मेरी भी। वह बोल पड़ी हां यार तुम मेरे मियां से चुदवा लो और मैं तेरे मियां से चुदवा लेती हूँ। मैं यही तो कहने वाली थी। बस समीना मुझे अपने कमरे में ले गयी और मेरे मियां को वही बुला लिया।

समीना ने मुझे अपने मियाँ बसीर से मिलवाया। मैं उसे देखते ही अपना दिल दे बैठी। मैं बोली हाय कितना मस्ताना मरद है तेरा मियाँ . इसका तो ‘वो’ भी बड़ा मस्ताना होगा . समीना बोली हां हां मरी क्यों जा रही है अभी खोल कर दिखाती हूँ तुझे अपने मियां का लण्ड . तब तक थोड़ा शरब तो पी ले भोसड़ी वाली। मैं शराब पीते हुए अपने मियां का इंतज़ार करने लगी। थोड़ी देर में वह भी आ गया। मैं बोली लो समीना आ गया माँ का लौड़ा मेरा मियां अल्ताफ . मैंने उसे समीना से मिलवाया तो बहुत खुश हुआ बोला हाय तस्लीम तेरी बहन तो बहुत खूबसूरत है। बड़ी हसीं है तेरी बहन . मैंने उसे आँख मारते हुए कहा मेरी बहन की ‘वो’ भी बड़ी हसीं है मियाँ . समीना बोली हाय अल्ला, तस्लीम मैं तो तेरे मर्द को दिल दे बैठी हूँ यार . मैंने कहा – नहीं समीना, तेरे दिल देने से काम नहीं चलेगा . काम तो तुझे अपनी बुर देने से चलेगा .

बस हम चारों खिलखिला कर हंस पड़े . इतने में मैं समीना के कपडे उतारने लगी और समीना मेरे कपडे . पल भर में हम दोनों एकदम नंगी हो गयी, मुझे उसका मियां घूर घूर कर देखने लगा और मेरा मियां समीना को . समीना की चूत बिलकुल चिकनी थी और मेरी चूत पर छोटी छोटी झांटें थी। चूंचियां हम दोनों की लगभग बराबर थी। हां गांड मेरी थोड़ी ज्यादा गद्देदार थी। फिर मैंने हाथ बढ़ाया और उसके मियां बसीर के कपडे खोलने लगी। वह भी मेरे मियां अल्ताफ के कपडे उतारने लगी। मैंने जब बसीर का लौड़ा खोला तो वह फनफना कर मादर चोद खड़ा हो गया . मैंने उसे मुठ्ठी में काबू किया और ऊपर नीचे लरने लगी। लण्ड बड़ा और मोटा होने लगा। मैं बोली हाय समीना तेरे मियां का लौड़ा तो मेरे नंदोई के लौड़े से मिलता जुलता है . वह बोली हाय अल्ला, तू तो अभी से अपने नंदोई से चुदवाने लगी माँ की लौड़ी . मैंने कहा अरे यार वह बहन चोद मेरी सुहागरात के दो दिन बाद मेरे पास आकर मुझे अपना खड़ा लौड़ा दिखा दिया। अपनी लुंगी खोल कर खड़ा हो गया साला मेरे सामने और बोला भाभी बताओ कैसा है मेरा लण्ड . मुझे भी ताव आ गया और मैंने लौड़ा हाथ बढाकर पकड़ लिया . मैंने कहा अब तो मैं इसी लौड़े से तेरी माँ का भोसड़ा चोदूंगी।

तब तक समीना ने मेरे मियां को नंगा कर दिया। उसका लौड़ा पकड़ा तो वह और बड़ा और सख्त होने लगा। वह लण्ड चूम कर बोली हाय रब्बा कितना बड़ा और कितना प्यारा लौड़ा है तेरे मरद का तस्लीम . साला बिलकुल अरसद अंकल के लण्ड की तरह लग रहा है भोसड़ी का . मैंने पूंछा ये अरसद अंकल कौन है समीना . वह बोली यार वो मेरी माँ का भोसड़ा चोदने वाला अंकल है। एक दिन मैंने अपनी अम्मी को उससे चुदवाते हुए देख लिया था बस उसी दिन अम्मी ने मुझे उसका लण्ड पकड़ा दिया और फिर कहा समीना तू भी चुदवा ले अंकल से . बस मैंने भी मस्ती से चुदवाया। जब मैंने तेरे मियां का लौड़ा पकड़ा, तो मुझे उसी का लौड़ा याद आ गया .
इतने में समीना ने मेरा मियां का लण्ड अपनी बुर में घुसा कर भकाभक चुदवाने लगी। मैंने भी उसके मियां का लौड़ा अपनी चूत में घुसेड़ा और धकाधक चुदवाने लगी . हमें एक दूसरे के मियां से एक दूसरे के सामने चुदवाने में बेहद मज़ा आ रहा था। अचानक मेरी अम्मी आ गयी।
वह बोली :- हाय दईया, तस्लीम तू भोसड़ी वाली समीना के मियां से चुदवा रही है।
मैंने जबाब दिया :- तो क्या हुआ तू भी तो समीना के अब्बा से चुदवाती है .
वह बोली :- हाय अल्ला, तू छुप छुप कर मेरी चुदाई देखती है बहन चोद .
मैंने कहा :- छुप छुप कर कहाँ देखती हूँ, अम्मी, तू तो खुले आम दरवाजा खोल कर चुदवा रही थी। ऐसे में तो कोई भी देख सकता है तेरी चुदाई . तुझसे ज्यादा तो बेशरम तेरा भोसड़ा है मादर चोद अम्मी . जाने किस किस के लण्ड अपने अंदर घुसा लेता है भोसड़ी वाला .
वह बोली :- अच्छा ठीक है तू चुदवा कर आना मेरा पास .
मैं फिर बसीर से चुदवाने लगी।

चुदाने के एक घंटे बाद मैं दूसरे बेड रूम में गयी तो मैंने देखा की मेरी सिमरन मेम (सिमरन मेम मेरे कॉलेज में मुझे पढ़ाती है) मेरा अब्बा का लण्ड चूस रही है। मुझे तो पहले यकीन ही नहीं हुआ . मैं बड़ी देर तक सिमरन मेम का नंगा बदन देखती रही और फिर बोली हाय मेम तुम यहाँ लण्ड चाट रही हो . वह बोली अरी तस्लीम मैं तो तुम्हे ही ढूंढ रही थी। तुमसे मिलने आयी थी। तब तक तेरा अब्बा मेरे सामने आ गया। उसे लुंगी में देख कर मेरे अंदर हलचल होने लगी। मुझे तेरी बात याद आ गयी। तूने कहा था न की मेरे अब्बा का लौड़ा बहुत बड़ा है मैंने मौक़ा देखा और कहा अंकल वैसे तो मैं तस्लीम को ढूंढ रही हूँ पर मेरा मतलब आपसे है वह बोला हां मतलब बताओ अपना क्या है . मैंने चुपके से बोली अंकल मैं तेरा लण्ड पकड़ने आयी हूँ। वह तपाक से बोला तो फिर पकड़ो न लण्ड . तस्लीम बुर चोदी कहीं माँ चुदा रही होगी अपनी . वह बाद में आ ही जाएगी . ऐसा कह कर अंकल ने अपनी लगी खोल कर मुझे लण्ड . उसकी गाली सुनकर और उसका लण्ड देख कर मेरी चूत की आग और भड़क गयी। फिर मैंने बड़ी बेशर्मी से पकड़ लिया लण्ड . तस्लीम तू सही कह रही थी। इतना बड़ा लण्ड तो न मेरे हसबैंड का है और न ही मेरे पापे का है . मैं बोली वाओ तो तू भी अपने पापे का लण्ड पकड़ती है .

बस मैं भी कपडे उतार कर मेम के साथ लौड़ा चाटने लगी। मैंने कहा अब्बा भोसड़ी के तेरा लौड़ा वाकई बेलगाम है । तू तो मेरी सिमरन मेम को जानता भी नहीं था फिर भी तूने खुल्लम खुल्ला पकड़ा दिया उसे अपना लण्ड ये तो वही बात हुई –
सिमरन मेम मेरी बात सुनकर खिलखिला कर हंस पड़ी . मैं मंकी बिना झांट की चूत सहलाने लगी और बोली अबे मेरे भोसड़ी के अब्बा अब पेलो न लौड़ा मेम की बुर में . देर क्यों कर रहा है माँ का लौड़ा . अब्बा घूम कर लण्ड घुसेड़ते हुए छोड़ने लगा भकाभक सिमरन की चूत . वह बोली हाय रे बड़ा मोटा लौड़ा है तेरे अब्बा का तस्लीम . साल मेरी माँ का भोसड़ा चोदने वाला है इसका लण्ड . मैंने पूंछा मेम क्या तुम भी अपनी माँ का भोसड़ा चुदवाती हो . वह बोली हां बिलकुल चुदवाती हूँ . तू क्या समझती है की केवल तू ही चुदवाती है माँ का भोसड़ा . अरी मेरी बुर चोदी तस्लीम कॉलेज की सभी लड़कियां अपनी माँ का भोसड़ा चुदवाती है . टीचरें तो अपनी माँ का भोसड़ा लड़कों से चुदवाती है। कई लड़के मेरी माँ चोदने आते है भोसड़ी के . फिर वह बोली अरे अंकल तुम चोदे जाओ मेरी बुर . एक दिन तझे भी मेरी माँ चोदनी है . मेम ऐसा बोल कर अपनी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी। मैं सोंच रही थी की कॉलेज में इसकी गिनती बड़ी अच्छी और सोबर टीचर के रूप में होती है और यहाँ देखो कैसे मेरे अब्बा से एकदम रंडी की तरह चुदवा रही है माँ की लौड़ी अपनी बुर . इसीलिए कहते है की औरत का चरित्र भगवान भी नहीं जानता आदमी की क्या बात है .

अब्बा बोला यार इसकी चूत तो बड़ी टाईट है बहन चोद, मेरा लौड़ा तो एकदम चिपक कर घुस रहा है इसकी बुर में . मैं सोंचने लगी की है तो सिमरन बड़ी चुदक्कड़ . लेकिन इसकी बुर इतनी टाईट कैसे है . मैंने फिर पूंछ ही लिया तो वह बोली अरी मेरा तस्लीम मैं अपनी चूत को शराब पिलाती हूँ। तू भी पिलाना शुरू कर दे . इससे चूत हमेशा टाईट रहेगी . तब तक अबा साला पीछे से चोदने लगा . इतने में समीना भी आ गयी वह बोली हाय तस्लीम ये कौन चुदवा रही है मेरे खालू से बहन चोद . मैंने बताया की यह मेरे कॉलेज की सिमरन मेम है इसे मेरा अब्बा का लौड़ा पसंद आ गया है . समीना बोली यार इसका लौड़ा पसंद तो मेरी दीदी को भी आ गया है। वह भी आने वाली है किसी दिन इससे चुदवाने . अब्बा यह सुनकर बड़ा खुश हुआ . इतने में लण्ड ने उगलना शुरू कर दिया वीर्य उसके मुंह में और सिमरन चाटने लगी मस्ती से लण्ड .

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


neeta bhabhi ki chudaibest desi chudaigood story in hindiboor chudai kahanibete ne gand mararandi ki chudai hindi movielund ki chutchut chataimausi chudai ki kahanichudai friendsex with desi auntyrandi kiland & chootsaxstorychachi ki chut hindi storybahu ki chootpapa ki chudai ki kahanikya baat hai bhaireal suhagraat story in hindisister ki chudai in hindi storyindian sex stories comkuwari chut chudai kahanigandi sex storyaunty ko choda hindi kahanisexy kahani behan kikahani hindi xxxsex story maa ki chudaichachi ko patayasex stories in gujarati fontnew adult kahanidevar bhabhiki chudainew chudai story with photoseksy kahanisexy story hindi familyvery hot sex storysex stories in gujarati fontwww antervasnabhabhi ki chut se khoonlund m chutnangi chut ki kahanibete se chudai ki storychachi ki gand mari hindi storyhindi secxichachi ko chodsexiest chudairandi ki chudai kahani hindihindi sex soma beta sex comkamsutrasasur ne bahu ko chodasex chat with girl in hindichudai story free8 sal ki ladki ki chudaichut bhabhi photodesi gay sex storieswww sex storysex chut ki kahaniraat ko aaungabhabhi bur chudaisavita bhabhi ki sexy chudaiaunty ko choda sexy storiesincest choda chudirajasthan desi sexsonu sex storygandi khaniyauncle ne chodachut ki story hindihindi sex read storychachi or bhabhi ko chodama sex storyandhere me gand maribahan ki chudai ki hindi kahanihind sax storebhabhi and devar ki chudaiteacher ki chudai kibur chodai14 sal ki ladki ki chudaisex stories in bussexy chudai kahani hindi meshali ki chudai kahanidesi sexy chudai storymami ki chudai story hindichinaalaunty ko pregnant kiyabhartiya sexindian bhabhi chudai kahanisavita bhabhi antarvasnagirl frnd ki chudaisex story of mom in hindisavita bhabhi com hindi